Monday, March 4, 2024
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeHaldwaniऑपरेशन सिलक्यारा हौसला और आत्मविश्वास 41 जाबाज हीरो

ऑपरेशन सिलक्यारा हौसला और आत्मविश्वास 41 जाबाज हीरो

उत्तरकाशी देहरादून सिलक्यांरा उत्तरकाशी टनल हादसे में हौसला और आत्मविश्वास जिंदगी बचाने में सबसे अधिक काम करता हुआ देखा गया टनल में कैद 41 जिंदगी इसी के बूते नयी जिंदगी की सूरज किरणों का इंतज़ार करती हुई देखी गई दीपावली पर पूरा देश जश्न माना रहा था उस समय 41 जिंदगी टनल की सुरंग में कैद होकर दीपवाली नहीं माना सकी बूढ़ी दीपावली के दिन अगर सिलक्यांरा उत्तरकाशी टनल में 41 श्रमिको को जिंदगी की जंग में जीत मिलती है तो दीपावली मनाये जाने की हर कोशिश में जुटी टीम दीपवाली मनाएगी

उत्तराखंड मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी टनल के बहार बौखनाग देवता मंदिर को प्रणाम करते हुए सभी श्रमिको के बहार आने की प्रार्थना करते हुए देखे गए राहत और बचाव में जुटी टीमों से भी उत्तराखंड मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने जानकारी लेते हुए मोर्चे पर मेहनत से काम किये जाने पर उनका हौसला बढ़ाया है चलिए खास अपडेट में जानते है कब और कैसे बहार आएंगे टनल में कैद 41 जिंदगी के जाबाज हीरो।

एनडीआरएफ के डीजी अतुल करवाल ने बताया कि आखिरी पाइप को वेल्ड किया जा रहा है। अगर कोई बाधा न आई तो शाम तक ऑपरेशन सिलक्यारा पूरा हो जाएगा। पाइप पार होने के बाद पहले उनके जवान उसका निरीक्षण करेंगे। इसके बाद पहियों वाले स्ट्रेचर से मजदूरों को बाहर निकाला जाएगा।

आपको बता दे दीपवाली के दिन 12 नवंबर के दिन टनल में हादसे के चलते 12 दिनों से कैद सिलक्यांरा उत्तरकाशी टनल में 41 श्रमिको को जिंदगी की जंग में जीत मिलने जा रही है ऐसे में परिजनों की दीपवाली टनल से सुरक्षित बहार आने के बाद ही होगी ऐसे समय में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी मोर्चे पर टीम के साथ पल पल की जानकारी लेते देखे गए जिंदगी बचाने का उनका हौसला सिलक्यांरा उत्तरकाशी टनल में 41 श्रमिको को बचाने में जुटी टीम के लिए देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी आत्मविश्वास के साथ उत्तराखंड सरकार के साथ खड़े नज़र आए जिसका नतीजा 12 दिनों की मेहनत के बाद समाने नज़र आ रहा है।

देहरादून सिलक्यांरा उत्तरकाशी टनल में 41 श्रमिको को जिंदगी की जंग में जीत दिलाने के लिए उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी बुधवार से सिलक्यांरा उत्तरकाशी में कैंप किये हुए है बुधवार को वो मातली में रुके थे देर रात तक हर पल की जानकारी लेते रहे श्रमिको को देर रात ही निकाला जाना था लेकिन एक तकनिकी वजह से रात को ड्रील को रोकना पड़ा लेकिन अब लगातार काम तेजी से किया जा रहा है श्रमिको के लिए 41 हेल्थ प्रूफ एम्बुलेंस मोके पर तैयार है एयर लिफ्ट के लिए हेली सेवा भी पूरी तरह तैयार है।

लगातार श्रमिको को बहार निकाले जाने के अंतिम प्रयास अंतिम चंरण में ओपरेशन जिंदगी के रूप में है टनल के अंदर 41 श्रमिको ने पहली बार कपडे चेंज किये तो वही सभी श्रमिको में एक नया उत्साह देखा गया है परिजन भी अपनों से मिलने के लिए बेताब नज़र आ रहे है सरकार मुस्तैदी से हर पल मौके पर अफसरों की टीम के साथ खड़ी है उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी उत्तरकाशी सिलकियरा में बुधवार से कैंप करके हर पल की जानकारी ले रहे है वो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को टनल ओपरेशन की पूरी जानकारी साझा कर रहे है आज का दिन बेहद अहम् माना जा रहा है उत्तराखंड में गढ़वाल मंडल में बूढ़ी दीपावली भी मनाई जा रही है।

 

 

सीएम धामी ने बताया कि प्रधानमंत्री मोदी ने आज फोन कर सिलक्यारा, उत्तरकाशी में निर्माणाधीन टनल में फंसे श्रमिकों को सकुशल बाहर निकालने के लिए चल रहे रेस्क्यू ऑपरेशन की जानकारी ली। उन्होंने केंद्रीय एजेंसियों, अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञों एवं प्रदेश प्रशासन के समन्वय से युद्ध स्तर पर संचालित राहत एवं बचाव कार्यों में हो रही प्रगति से पीएम मोदी को अवगत कराया।

बताया कि प्रधानमंत्री को मौक़े पर श्रमिकों के उपचार व देखभाल के लिए चिकित्सकों की टीम, एम्बुलेंस, हेली सेवा एवं अस्थायी हॉस्पिटल की व्यवस्था सुनिश्चित किए जाने एवं किसी भी इमरजेंसी की स्थिति में एम्स ऋषिकेश में चिकित्सकों को तैयार रहने के निर्देश दिए जाने की जानकारी भी दी।

 

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

HTML tutorial

Most Popular

error: Content is protected !!