सनातन भगवा कार्पेट पर पुष्कर सिंह धामी सरकार

सनातन भगवा कार्पेट पर पुष्कर सिंह धामी सरकार

सनातन भगवा कार्पेट पर पुष्कर सिंह धामी सरकार देहरादून उत्तराखंड में सनातन की नयी कड़ी तैयार हो रही है राज्य की धामी सरकार ने केंद्र को भेजे गए दो तहसीलों के नाम पर केंद्र की मोहर से एक बार फिर धामी अपना राजनैतिक विजन जनता के सामने रखने में कायमाब रहे है धामी के फैसले से जनता के दिलो में एक बार फिर धामी सरकार के पक्ष में सनातन का करंट दौड़ा है लोगो के बीच दोपहर बाद से लगातार पुष्कर सरकार के पक्ष में सनातन भगवा कार्पेट पर पुष्कर सिंह धामी सरकार को कहा जा रहा है।

देश में बाबा नीम करोली के करोड़ो भक्त है ऐसे में 15 जून को उत्तराखंड के कैंची धाम में आयोजित होने वाले बाबा नीम करोली जन्मोस्तव से पहले पुष्कर सरकार ने केंद्र की मदद से वो कर दिखाया है जिसकी गूंज राजनैतिक गलियारों से लेकर जनता में भी चर्चा का केंद्र बन गयी है हर साल बाबा नीम करोली कैंची धाम में जन्मोत्सव मनाया जाता है मानसखंड के रूप में अभी धामी सरकार कुमायु मंडल के विशेष मंदिरो को जोड़ कर नया धार्मिक कॉरिडोर बना रही है।

उत्तराखंड की दो तहसीलों के नाम बदल गए हैं। केंद्र सरकार ने कोश्याकुटोली का नाम श्री कैंचीधाम तहसील और जोशीमठ का नाम ज्योतिर्मठ तहसील करने पर मुहर लगा दी है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने इसके लिए केंद्र सरकार का आभार जताया।

नैनीताल की कोश्याकुटोली को अब परगना श्री कैंचीधाम तहसील के नाम से जाना जाएगा। केंद्र सरकार ने राज्य की ओर से भेजे गए तहसील नाम परिवर्तन के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। क्षेत्रीय जनता और बाबा नीब करौरी महाराज के भक्तों ने सरकार के फैसले का स्वागत करते हुए मुख्यमंत्री धामी का आभार जताया। सीएम धामी ने बीते वर्ष कैंची धाम मंदिर के स्थापना दिवस (15 जून) के मौके पर कोश्याकुटोली तहसील को श्री कैंचीधाम के नाम पर करने की घोषणा की थी। इसके लिए केंद्र को प्रस्ताव भेजा गया था। केंद्र ने सभी औपचारिकताएं पूरी करने के बाद कोश्याकुटोली तहसील का नाम बदलकर परगना श्री कैंचीधाम तहसील करने की मंजूरी दे दी। कैंची धाम को मानसखंड मंदिर माला मिशन में भी शामिल किया गया है।