Google search engine
Monday, August 8, 2022
Google search engine
Homeदेहरादूनएसएसपी दून का फरमान बिचौलियों की थाना चौकियों में इंट्री बैन

एसएसपी दून का फरमान बिचौलियों की थाना चौकियों में इंट्री बैन

देहरादून वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून ने सभी थाना प्रभारियों/ चौकी प्रभारियों को निर्देश, देते हुए सर्वोच्च प्राथमिकता के आधार पर शिकायतो का निस्तारण,करते हुए थाना चौकियों मे बिचौलियों का प्रवेश निषेध करने का सख्त आदेश जारी किया है। देहरादून आईपीएस दिलीप कुंवर के सख्त आदेश के बाद देहरादून ज़िलों में थाना चौकियों में बिचौलियों जो अकसर देखे जाते थे वो अब नज़र नहीं आएंगे यही नहीं देहरादून एसएसपी ने पुलिस को नियत समय में जनता को किसी तरह की कोई परेशानी पुलिस विभाग की तरफ से नहीं हो इसको लेकर भी काम किये जाने पर जोर दिया है

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून ने सभी थाना प्रभारियों को अपनी प्राथमिकताओं के सम्बन्ध मे अवगत कराते हुए स्पष्ट तौर पर निर्देशित किया गया है कि थाना चौकियों में प्राप्त होने वाले किसी भी शिकायती प्रार्थना पत्र पर पत्र प्राप्ति के 30 मिनट के अन्दर मौके पर जाकर प्रार्थना पत्र में अंकित तथ्यों के सम्बन्ध में जानकारी करते हुए अग्रिम विधिक कार्यवाही सुनिश्चित की जाए। प्रत्येक शिकायती प्रार्थना पत्र का निस्तारण पत्र प्राप्ति के 15 दिवस के अंदर सुनिश्चित कर लिया जाये, जिन मामलों में निस्तारण 15 दिन की समयावधि में सुनिश्चित न पाये उनमें सम्बंधित पुलिस अधीक्षक से अतिरिक्त समयावधि ले ली जाये, परंतु ऐसे मामलों में भी प्रार्थना पत्र का अधिकतम 30 दिवस के अंदर निस्तारण सुनिश्चित किया जायेगा।

सभी थाना प्रभारी इस बात को सुनिश्चित करेंगे कि थाना/ चौकियों पर पीड़ित व्यक्ति से ही प्रार्थना पत्र लिया जाए, किसी भी दशा में बिचौलियों को थाना/ चौकियों में प्रवेश नहीं करने दिया जायेगा और ना ही उनकी किसी बात को सुना जाएगा। समस्त शिकायतों का निस्तारण उपलब्ध वास्तविक तथ्यों के आधार पर सुनिश्चित किया जाये। प्रार्थना पत्रों पर तत्काल आवश्यक निरोधात्मक कार्रवाई अमल में लाई जाये, जिससे कि कोई अन्य गंभीर अपराध घटित न हो सके।

कंट्रोल रूम से प्राप्त होने वाली सूचना पर संबंधित थाना/चौकी प्रभारी स्वयं तत्काल मौके पर जाये. यदि कोई थाना / चौकी प्रभारी किसी अन्य सूचना पर व्यस्त हो तो उस दशा में संबंधित हल्का इंचार्ज अथवा कोई अन्य उप निरीक्षक मौके पर जायेंगे, यदि किसी कारणवश से उक्त लोग भी मौके पर नहीं जा सके, उस स्थिति में हेड कांस्टेबल अथवा चीता मोबाइल या 02 कांटेबल मौके पर जायेंगे और घटना से संबंधित वास्तविक तथ्यों से संबंधित प्रभारी को अवगत कराएंगे, जिनके द्वारा अग्रिम वैधानिक कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी। देहरादून का प्रत्येक थाना प्रभारी इस बात को सुनिश्चित करेगा कि पुलिस के पास शिकायत आने के बाद कोई अप्रिय घटना घटित न हों, यदि कोई घटना घटित होती है, उस दशा में सम्बंधित थाना/ चौकी प्रभारी की जवाबदेही तय करते हुए उनके विरुद्ध कठोर कार्रवाई की जायेगी।

डेली Uttarakhand Hindi News उत्तराखंड हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे वेब पोर्टल भड़ास फॉर इंडिया Bhadas4india को विजिट करे आपको हमारी वेबसाइट पर Dehradun News देहरादून न्यूज़ के साथ हर खबर मिलेगी हमारी हिंदी खबरे शेयर करना नहीं भूले  

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!