spot_img
Thursday, February 2, 2023
spot_imgspot_img
spot_imgspot_img
Homeउत्तराखंडधामी का कौशल केंद्र की सौगातो से खुले अवसरों के द्वार

धामी का कौशल केंद्र की सौगातो से खुले अवसरों के द्वार

उत्तराखंड में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का कौशल और केंद्र सरकार के कुशल नेतृत्व से उत्तराखंड में अवसरों के नए आयाम खुल रहे हैं अपने दूसरे कार्यकाल में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी बेहतर कार्यकाल को विजन तक पहुंचाने के लिए हर संभव कोशिश करते हुए नजर आ रहे हैं केंद्र सरकार की तमाम योजनाएं उत्तराखंड में एक मजबूत मील का पत्थर साबित होने की दिशा में आगे बढ़ रही हैं निश्चित रूप से सबके साथ सबका विश्वास और सब को साथ लेकर आगे चलने की परंपरा से एक नया माहौल कायम हुआ है ।

यह सब कुछ संभव हो पाया है राज्य के युवा मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के मजबूत इरादों की बदौलत आज उत्तराखंड में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी पार्टी की सरकार अपना कार्यकाल चला रही है ऐसे में भ्रष्टाचारियों को बेनकाब करते हुए उन्हें जेल की सलाखों के पीछे भेजा जा रहा है यही नहीं जनहित के तमाम विकास कार्य ग्रामीण क्षेत्रों की पगडंडी तक पहुंचते हुए नजर आ रहे हैं निश्चित रूप से उत्तराखंड को 2025 में एक विकसित राज्यों की श्रेणी में शुमार करने के लिए पुष्कर सिंह धामी की सरकार का यह कदम अनुकरणीय है ।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी सब के भरोसे को जीतते हुए निरंतर आगे बढ़ रहे हैं उनके तमाम विकास कार्य ग्रामीण क्षेत्रों की पटरी पर जहां दौड़ते हुए नजर आ रहे हैं वहीं जनता की कसौटी पर भी पुष्कर सिंह धामी सरकार पूरी तरह से खरी उतरती हुई नजर आ रही है जिलों में जनता के लिए दरबार जिलाधिकारी कार्यालय में लगाए जा रहे हैं तो वहीं प्रदेश स्तर पर राज्य के मुखिया स्वयं जनता दरबार में लोगों की समस्याओं को सुन रहे हैं ।

ऐसे में जो तस्वीर राज्य की उभरकर सामने आ रही है उसमें पब्लिक के काम होते हुए नजर आ रहे हैं जनता को भी विकास कार्यों के साथ-साथ अपने कामों को तेजी से होने की जो उम्मीद विधानसभा के चुनाव में थी उस पर काम होता हुआ दिख रहा है ऐसे में कहा जा सकता है कि उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी बेहतर तालमेल बनाते हुए राज्य को विकास की पटरी पर आगे बढ़ा रहे हैं उत्तराखंड को विकसित राज्यों में शुमार करने के लिए केंद्र सरकार भी भरपूर सहयोग कर रही है

तीन दिवसीय दौरे पर राज्य के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी कि केंद्र के तमाम नेताओं से मुलाकात राज्य के विकास में मील का पत्थर साबित होती हुई नजर आएगी ऐसी उम्मीद की जा रही है कि उत्तराखंड को केंद्र सरकार बेहतर बजट अपनी तमाम योजनाओं में देकर एक अग्रणी राज्य में शुमार करने के लिए उत्तराखंड को आगे बढ़ाएगी यही उम्मीद उत्तराखंड की जनता भी केंद्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार से लगा रही है उसी उम्मीद को उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी आगे बढ़ाने का काम कर रहे हैं और मुख्य सेवक के रूप में लगातार जनता के बीच अपनी उपस्थिति दर्ज करा रहे हैं जिलों में उनके भ्रमण कार्यक्रम भी आयोजित हो रहे हैं और वह पब्लिक से सीधा मिल रहे हैं ऐसे में उत्तराखंड का युवा वर्ग भी मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से जुड़ा हुआ नजर आ रहा है कहा जा सकता है कि राज्य के मुखिया हर वर्ग को अपने साथ में लेकर आगे बढ़ रहे हैं।

भाजपा ने केन्द्र सरकार द्वारा उत्तराखंड को सड़कों के क्षेत्र मे दी गयी सौगातो के लिए केन्द्र सरकार का आभार जताते हुए इसके लिए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के कुशल नेतृत्व को भी प्रसंसनीय बताया है।
पार्टी के प्रदेश मीडिया प्रभारी मनवीर सिंह चौहान ने कहा कि गढ़वाल और कुमायूँ के मध्य सड़क मार्ग की दूरी कम करने के लिए लम्बे समय से कोशिश होती रही है।
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के अनुरोध पर नजीबाबाद अफ़जलगढ़ बाईपास की मंजूरी से दोनों जनपदों के बीच की दूरी कम होने से इसका लाभ निश्चित रुप से राज्य के लोगों को मिलेगा।
वही देहरादून क्षेत्र मे अत्यधिक यातायात एवं भीड़मुक्त कराने के लिए देहरादून रिंग रोड़ के निर्माण की फिजिबिल्टी सर्वे किये जाने की स्वीकृति से इसका सीधा लाभ मिलेगा। कुछ योजनाये जिसमे
हाईवे के साथ लगे लगभग 1100 एकड़ भूमि पर लाजिस्टिक पार्क / फल एवं शब्जी पार्क और आढ़त बाजार के लिए केंद्रीय मंत्री द्वारा मुख्यमंत्री को प्रस्ताव दिया गया है और भूमि उपलब्ध होने पर यह महत्वाकाक्षी योजना
शहर में जाम से राहत दिलाने के साथ सौंन्दर्य को निखारेगी।
इसके अलावा मझौला से खटीमा चार लेन सडक मार्ग की भी स्वीकृति से यह क्षेत्र सीधे मैदानी क्षेत्र से जुड़ेगा और व्यवसायिक गतिविधिया बढ़ेगी जो कि रोजगार के क्षेत्र मे सहायक होगा सितारगंज से टनकपुर मोटर मार्ग को भी चार लेन में परिवर्तित करने की स्वीकृति से मार्ग निर्माण से जनपद चम्पावत एवं पिथौरागढ आवागमन करने में काफी समय की बचत के साथ साथ मार्ग सुविधाजनक होगा।
पिथौरागढ से अस्कोट मोटर मार्ग (लगभग 47 किमी) भी ऑल वेदर परियोजना की तरह स्वीकृत होने से दूरगामी परिणाम लाभ के रूप मे सामने आएंगे।
वही राष्ट्रीय राजमार्गों के निर्माण में अधिग्रहित भूमि से ऊपर व नीचे यदि मार्ग निर्माण से भवनों एवं अन्य संरचनाओं में क्षति की भरपाई भी केन्द्र द्वारा होने का निर्णय शानदार और राज्य के लिए सुखद है।
चौहान ने कहा कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी विकास के रोड मैप तय कर कार्य कर रहे है और जिस गति से केन्द्र के सहयोग से राज्य मे विकास योजनाये चल रही है उससे निश्चित है की 2025 मे उत्तराखंड देश का अग्रणी राज्य होगा।

Uttarakhand News उत्तराखंड हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे वेब पोर्टल भड़ास फॉर इंडिया Bhadas4india को विजिट करे आपको हमारी वेबसाइट पर Dehradun News देहरादून न्यूज़ के साथ Uttarakhand Today News Breaking News हर खबर मिलेगी हमारी हिंदी खबरे शेयर करना नहीं भूले

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!