Sunday, March 3, 2024
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
Homeउधम सिंह नगरनानकमत्ता हत्याकांड का खुलासा

नानकमत्ता हत्याकांड का खुलासा

नानकमत्ता हत्याकांड का खुलासा Nanakmatta Murder Case Open 2022 नानकमत्ता हत्याकांड का खुलासा करने वाली पुलिस टीम का मनोबल बढ़ाते हुए उत्तराखंड के युवा सी ऍम पुष्कर सिंह धामी ने पुलिस टीम को ढाई लाख रूपए दिए जाने की घोषणा की गयी है उत्तराखंड के नानकमत्ता में बीते दिनों एक ही परिवार के चार लोगो की हत्या किये जाने के बाद विधानसभा में सनसनी मच गयी थी सोमवार को मामले का खुलासा करते हुए पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने नानकमत्ता हत्याकांड का खुलासा करने पर डीआईजी कुमाऊं नीलेश आनंद भरणे, एसएसपी दलीप सिंह कुमार, जिलाधिकारी युगल किशोर पंत व जाँच टीम की पीठ थपथपाई। इसके साथ ही उन्होंने खुलासा करने वाली टीम को 250000 इनाम देने की घोषणा की

पुलिस ने चौहरे हत्याकांड से छठे दिन पर्दा उठा दिया। सुनार समेत चार लोगों की हत्या की साजिश रचने वाला सुनार का ही करीबी दोस्त निकला। उसने अपने तीन अन्य साथियों के साथ मिलकर बर्थ डे के बहाने सुनार, उसके ममेरे भाई को बुलाकर देवहा नदी किनारे उनकी हत्या कर दी। हत्यारोपियों ने सर्जिकल ब्लेड से उनके गले काटे। इसके बाद वे सुनार के घर पहुंचे और यहां उसकी मां और नानी के गले हंसिये काटकर उन्हें भी मौत के घाट उतार दिया। हत्यारोपियों ने अंकित की दुकान में रखे सोने के जेवरात आदि लूटने की योजना बनाई थी, लेकिन जेवरात तो नहीं मिले, बल्कि घर में रखे 40 हजार रुपये लूटकर फरार हो गए।

बीते 28 दिसंबर को नानकमत्ता के खटीमा मार्ग स्थित आशीर्वाद ज्वैलर्स के स्वामी अंकित उर्फ अजय रस्तोगी, उनकी मां आशा देवी, नानी सन्नो देवी और उनकी दुकान पर कारीगर ममेरे भाई उदित रस्तोगी की धारदार हथियार से प्रहार कर नृशंस हत्या कर दी गई थी। चार लोगों की हत्या से नानकमत्ता के साथ ही पूरा जिला थर्रा गया था। डीआईजी व एसएसपी खुद ही हत्याकांड का खुलासा करने में लगीं टीमों से पल-पल अपडेट लेते रहे। आईजी वी मुरुगेशन ने भी घटनास्थल का मौका मुआयना जांच टीमों की ब्रीफिंग की थी।

सोमवार को थाना परिसर में पुलिस उप महानिरीक्षक (डीआईजी) कुमाऊं डॉ. नीलेश आनंद भरणे और एसएसपी दलीप सिंह कुंवर ने चौहरा हत्याकांड का खुलासा किया।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

HTML tutorial

Most Popular

error: Content is protected !!