Saturday, March 2, 2024
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
Homeराष्टीयमनीष सिसोदिया पांच दिनों की सीबीआई डिमांड फैसला सुरक्षित

मनीष सिसोदिया पांच दिनों की सीबीआई डिमांड फैसला सुरक्षित

दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया को सीबीआई ने दिल्ली आबकारी नीति घोटाला मामले में गिरफ्तार किया। शराब घोटाले के सिलसिले में कल 8 घंटे की पूछताछ के बाद सीबीआई ने सिसोदिया को गिरफ्तार किया गया। मनीष सिसोदिया की गिरफ्तारी के विरोध में आज आम आदमी पार्टी देशव्यापी स्तर पर प्रदर्शन कर रही है।

कोर्ट में दोनों पक्षों की दलीलें पूरी हो गई हैं। हालांकि कोर्ट ने अभी मनीष सिसोदिया की रिमांड पर फैसला सुरक्षित रखा गया है। माना जा रहा है कि कोर्ट थोड़ी देर में फैसला सुनाएगी। सीबीआई ने मनीष सिसोदिया को राउज एवन्यू कोर्ट में पेश किया। सूत्रों के मुताबिक सीबीआई की टीम ने पांच दिन की रिमांड मांगी है।

मनीष की गिरफ़्तारी के बाद कोर्ट का फैसला आने वाला है माना जा रहा है सीबीआई की डिमांड पर सुनवाई करते हुए कोर्ट सीबीआई रिमांड पर तीन दिनों का फैसला सुना सकती है क्योकि सीबीआई ने कोर्ट के समाने पांच दिनों की रिमांड को लेकर मांग रखी थी

सिसोदिया को हिरासत में लिए जाने के विरोध में आप सांसद संजय सिंह ने केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि मोदी सरकारी अदाणी की नौकरी कर रही है। अदाणी ने लाखों-करोड़ों रुपये का घोटाला किया लेकिन उनके खिलाफ सीबीआई व ईडी ने कोई कार्रवाई नहीं की। मोदी सरकार ने अदाणी को आकाश लेकर पाताल तक सब दे दिया। लोगों का ध्यान इस मुद्दे से भटकाने के लिए भाजपा ने जानबुझकर सिसोदिया को गिरफ्तार करवाया। उनकी गिरफ्तार एक राजनीतिक षंडयंत्र है।

उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी एक आंदोलन से निकली है। सिसोदिया के घर से सीबीआई और ईडी को कुछ नहीं मिला। उनके खिलाफ इसके पास कोई सबूत नहीं है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

HTML tutorial

Most Popular

error: Content is protected !!