spot_img
Thursday, December 8, 2022
spot_img
Homeमनोरंजनजानिए भुवन के लुक में क्या थी गड़बड़ ,आमिर खान ने लगान...

जानिए भुवन के लुक में क्या थी गड़बड़ ,आमिर खान ने लगान में बताया बड़ा झोल

आमिर खान की फिल्म लगान लोगों को काफी पसंद आई थी। बॉक्स ऑफिस पर भी फिल्म ने बढ़िया कमाई की थी। अब आमिर खान ने इस फिल्म में भुवन के लुक में एक बड़ी कमी बताई है। रीमेक में वह इसे रिपीट नहीं करना चाहेंगे।
आमिर खान को ऐसे ही मिस्टर परफेक्शनिस्ट नहीं कहा जाता। वह फिल्म की हर डिटेल में खुद को बारीकी से घुसा लेते हैं। इसका उदाहरण कई बार मिल चुका है। लोग उन्हें मिस्टर परफेक्शनिस्ट कहते हैं। हालांकि वह खुद मानते हैं कि परफेक्शन जैसी कोई चीज नहीं होती बल्कि परफेक्ट न होने में ही खूबसूरती है। अब उन्होंने लगान से जुड़ी मजेदार बात बताई है, जिस पर शायद ही किसी का ध्यान गया हो। आमिर खान के हिसाब से भुवन के लुक में कुछ गड़बड़ी थी। अगर दोबारा यह फिल्म बनती है तो वह इसे जरूर दूर करना चाहेंगे।

3 इडियट्स की थाली के बजाय LSC के गोलगप्पे

आमिर खान की फिल्म लाल सिंह चड्ढा रिलीज हो चुकी है। इसे लोगों के मिले-जुले रिऐक्शंस मिल रहे हैं। इस बीच उनका एक इंटरव्यू वायरल है जिसमें आमिर खान ने कई इंट्रेस्टिंग खुलासे किए हैं। यह इंटरव्यू उन्होंने IMDb को दिया है। उनसे पूछा जाता है कि लाल सिंह चड्ढा के गोलगप्पे या 3 इडियट्स की थाली, वह क्या पसंद करेंगे। इस पर पहले आमिर खान बोलते हैं, 3 इडियट्स की थाली क्योंकि वो पूरी भरी थी फिर बोलते हैं, नहीं मैं गोलगप्पा खाऊंगा। इसके बाद उनसे सवाल किया जाता है कि लाल सिंह चड्ढा में गोलगप्पे वाले सीन की क्या कहानी है। इस पर आमिर खान बताते हैं, यह रिफरेंस था जो उसकी मां देती रहती हैं, वह उसी को याद करता है कि जिंदगी गोलगप्पे जैसी होती है, पेट भले ही भर जाए लेकिन मन नहीं भरता।

बताया, भुवन के लुक में क्या थी गड़बड़

इसके बाद उनसे परफेक्शनिस्ट होने पर सवाल किया जाता है कि क्या वह परफेक्शन में यकीन करते हैं? इस पर आमिर जवाब देते हैं कि वह परफेक्शन में यकीन नहीं करते क्योंकि परफेक्ट न होने में ही खूबसूरती है। मुझे नहीं लगता कि मैं परफेक्शनिस्ट हूं। आमिर से पूछा गया कि आज अगर वह लगान बनाते हैं तो क्या अलग होगा? इस पर वह जवाब देते हैं, मैं इस बार आशुतोष से फिर से कहूंगा कि भुवन का किरदार शेविंग नहीं कर सकता। मैंने उनसे कहा था कि यहां पानी नहीं है, लोग परेशान हैं और यह बंदा हर दिन शेव कर लेता है। उसे कहीं से सीक्रेट पानी सप्लाई होता है। लेकिन आशुतोष मुझे एक खास तरह से देखना चाहते थे। वह मुझे क्लीनशेव देखना चाहते थे। मुझे यह बात समझ नहीं आई थी। इसलिए मैं अगर दोबारा लगाना करूंगा तो डायरेक्टर से रिक्वेस्ट करूंगा कि इस बार दाढ़ी उगने दो।

Uttarakhand News उत्तराखंड हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे वेब पोर्टल भड़ास फॉर इंडिया Bhadas4india को विजिट करे आपको हमारी वेबसाइट पर Dehradun News देहरादून न्यूज़ के साथ Uttarakhand Today News Breaking News हर खबर मिलेगी हमारी हिंदी खबरे शेयर करना नहीं भूले

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!