Saturday, March 2, 2024
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeHaldwaniएचएमटी जमीन पुष्कर सरकार के हवाले विकास की आधारशीला बनेगी

एचएमटी जमीन पुष्कर सरकार के हवाले विकास की आधारशीला बनेगी

एचएमटी जमीन पुष्कर सरकार के हवाले विकास की आधारशीला बनेगी Hmt Land Uttarakhand Goverment

हल्द्वानी एचएमटी की 45.33 एकड़ जमीन उत्तराखण्ड सरकार को मिल जाने के बाद भारी उद्योग मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा आदेश जारी कर दिए गए है सीएम पुष्कर सिंह धामी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केंद्रीय भारी उद्योग मंत्री डॉ. महेन्द्र नाथ पाण्डेय का आभार व्यक्त किया है उत्तराखंड सरकार के मुखिया पुष्कर सिंह धामी सरकार के लिए बड़ा सफल कदम है उत्तराखंड में डबल इंजन सरकार की एक और महत्वपूर्ण उपलब्धि के रूप में धामी सरकार के लिए विकास की नयी उड़ान ये जमीन तैयार करेगी पिछले कई वर्षो से जमीन को लेकर केंद्र सरकार के पास कोई ठोस पहल नहीं हो पाई थी जिसके चलते लम्बे समय में जमीन उत्तराखंड के रानीबाग में खाली पड़ी थी।

ये खबर भी पढ़े : त्रिवेंद्र अनिल बलूनी दोनों एक दूसरे के पूरब पश्चिम

नैनीताल उधम सिंह नगर संसदीय क्षेत्र से सांसद अजय भट्ट ने राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी के साथ मिलकर एचएमटी परिसर का निरीक्षण किया गया था पिछले काफी समय से एचएमटी परिसर और भूमि के उपयोग को लेकर अलग-अलग मांग उठी थी लिहाजा भविष्य में संभावनाएं तलाशने की दृष्टिगत दोनों सांसदों द्वारा निरीक्षण किया गया था तभी से परिसर की जमीन को लेकर हलचल तेज हुई थी पहले माना जा रहा था ये जमीन केंद्र सरकार अपनी किसी योजना के लिए लेने वाली है लेकिन अब दोनों सांसदों की मुहीम पर केंद्र सरकार ने मोहर लगाकर जमीन उत्तराखंड सरकार को देने का फैसला लिया है जमीन पर भविष्य की विकास रूपी इमारत का निर्माण किया जाना है।

भारत सरकार द्वारा एचएमटी की 45.33 एकड़ जमीन उत्तराखण्ड सरकार को हस्तांतरित कर दी गई है। इस संबंध में भारी उद्योग मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा आदेश भी जारी कर दिया गया है। इसके अनुसार रानीबाग और हल्द्वानी स्थित एचएमटी की 45.33 एकड़ भूमि उत्तराखण्ड सरकार को 72 करोड़ 02 लाख 10 हजार रुपये की रिजर्व प्राईस पर हस्तांतरित की गई है।

सीएम पुष्कर सिंह धामी ने एचएमटी की भूमि उत्तराखण्ड सरकार को हस्तांतरित करने के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी और केंद्रीय भारी उद्योग मंत्री डॉ. महेन्द्र नाथ पाण्डेय का आभार व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि यह डबल इंजन सरकार की एक और महत्वपूर्ण उपलब्धि है। उत्तराखंड की बहुप्रतीक्षित माँग को पूरा किया गया है। यह मामला काफी लम्बे समय से लम्बित था। अब प्रदेश सरकार को भूमि हस्तांतरित हो गई है। इसका उपयोग प्रदेश के हित में और प्रदेश के विकास हेतु किया जाएगा।

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से इसके लिये अनुरोध किया था। साथ ही अगस्त माह में केंद्रीय भारी उद्योग मंत्री डॉ. महेन्द्र नाथ पाण्डेय के साथ बैठक में भी इस बात को उठाते हुए एचएमटी की उक्त भूमि उत्तराखण्ड सरकार को हस्तांतरित किये जाने का अनुरोध किया था।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

HTML tutorial

Most Popular

error: Content is protected !!