spot_img
Wednesday, March 22, 2023
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeHealthमास्टर प्लान से डॉक्टर की कमी पूरी करेगा हेल्थ विभाग

मास्टर प्लान से डॉक्टर की कमी पूरी करेगा हेल्थ विभाग

मास्टर प्लान से डॉक्टर की कमी पूरी करेगा हेल्थ विभाग

देहरादून उत्तराखंड मास्टर प्लान अभी तक जमीनों के मामलों में लागू किया जाता था लेकिन उत्तराखंड में एक नया प्रयोग राज्य का स्वास्थ्य महकमा करने जा रहा है डॉक्टरों की कमी से जूझ रहे पहाड़ों में स्वास्थ सेवाओं को मजबूत करने के इरादों से अब स्वास्थ्य विभाग मास्टर प्लान तैयार करने में जुट गया है इस मास्टर प्लान के माध्यम से उत्तराखंड का स्वास्थ विभाग डॉ कमी को पर्वतीय जनपदों में दूर करने का दावा कर रहा है

पिछले कई सालों से उत्तराखंड के पर्वतीय जिलों में स्वास्थ्य व्यवस्था की हालत बेहद नाजुक है हकीकत ऐसी है कि इलाज के लिए पर्वतीय जिलों के लोगों को मैदानी जिलों में आना पड़ता है लंबा सफर होने के कारण कई बार मरीजों को अपनी जान से भी हाथ धोना पड़ता है लेकिन स्वास्थ्य विभाग को  जिलों में बेहतर बनाने की तरफ अब स्वास्थ्य महकमे ने मास्टर प्लान के माध्यम से एक नई पहल को शुरू करने का कदम आगे बढ़ाया है देखना होगा कि स्वास्थ्य विभाग का यह कदम कितना कारगर साबित होता है

उत्तराखंड में अब स्पेशलिस्ट डॉक्टर्स की कमी को दूर करने के लिए मास्टर प्लान तैयार

उत्तराखंड में अब स्पेशलिस्ट डॉक्टर्स की कमी को दूर करने के लिए मास्टर प्लान तैयार किया गया है । राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने इसके लिए सारी तैयारियां कर ली है। स्पेशलिस्ट डॉक्टर्स की कमी के कारण जहां पहाड़ों और ग्रामीण क्षेत्रों में मरीजों को दिक्कत होती थी अब उन दिक्कतों को दूर कर लिया जाएगा।

सभी के स्वास्थ्य का ठीक से ध्यान रखा जाए इसके लिए नेशनल हेल्थ मिशन लगातार अपनी तैयारियों में जुटा हुआ है। इसी के अंतर्गत 16 फरवरी को पहले चरण के इंटरव्यू किए जाने हैं। राज्य में विशेषज्ञ डॉक्टर को अब राज्य सरकार की तरफ से वह तमाम सुविधाएं मिल सकेंगी जो उन्हें निजी क्षेत्र में मिलती है। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग की लगातार तैयारियों में जुटा हुआ था।

राज्य के स्वास्थ्य सचिव डॉ आर राजेश कुमार ने अवगत कराया कि लगातार पहाड़ी क्षेत्रों में स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा की जा रही है। कई जगहों से हमें यह जानकारी मिली कि विशेषज्ञ डॉक्टर की कमी के कारण ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले मरीजों को खासी दिक्कत का सामना करना पड़ता है. लेकिन अब राज्य सरकार विशेषज्ञों को तैनात करने की दिशा में काम कर रही है.

डॉक्टर आर राजेश कुमार ने अवगत कराया कि स्वास्थ्य विभाग के पास ना तो दवाइयों की कमी है, ना सुविधाओं की कमी है और न ही अस्पतालों में मशीनों की कमी है। लेकिन विशेषज्ञ डॉक्टर ना होने से कई बार समस्या बढ़ जाती थी। इसे अब दुरुस्त कर लिया जाएगा।
राज्य का स्वास्थ्य विभाग एक नए मिशन के साथ तैयारियों में जुटा हुआ है ताकि प्रत्येक नागरिक को सरकारी अस्पतालों में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मिल सके।

Uttarakhand News उत्तराखंड हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे वेब पोर्टल भड़ास फॉर इंडिया Bhadas4india को विजिट करे आपको हमारी वेबसाइट पर Dehradun News देहरादून न्यूज़ के साथ Uttarakhand Today News Breaking News हर खबर मिलेगी हमारी हिंदी खबरे शेयर करना नहीं भूले

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!