Sunday, March 3, 2024
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
Homeउत्तराखंडमुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सोमवार को विधानसभा नैनीताल में लगभग 21997.75...

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सोमवार को विधानसभा नैनीताल में लगभग 21997.75 लाख की विकास योजनाओं का दिया उपहार

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सोमवार को विधानसभा नैनीताल में लगभग 21997.75 लाख की विकास योजनाओं का दिया उपहार

विधान सभा नैनीताल के विकास हेतु मुख्यमंत्री धामी ने 08 विकास योजनाओं का लोकार्पण तथा 134 विकास योजनाओं का शिलान्यास किया।

लोकार्पित हुई 06 पेयजल योजनाओं से 1374 परिवार लाभान्वित होंगे साथ ही शिलान्यास हुई 133 पेयजल योजनाओें से 16123 परिवार होंगे लाभान्वित।

कार्यक्रम स्थल फ्लैट्स मैदान पहुचने पर मुख्यमंत्री का गर्मजोशी से स्वागत किया गया। उन्होंने सभी का आभार व्यक्त किया।

माननीय मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने विधानसभा नैनीताल के लिए 21997.75 योजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास करते हुए कहा कि इन योजनाओं के माध्यम से इस क्षेत्र के विकास की नीव रखी गई है, इन योजनाओं के पूर्ण होने पर क्षेत्र का सर्वागींण विकास होगा तथा क्षेत्र को विकास की नई गति मिलेगी तथा यह योजनायें आने वाले समय में काफी लाभाकारी सिद्ध होंगी। धामी ने नैनीताल पहुंचने पर मुख्य न्यायधीश विपिन सांघी से मुलाकात की।
मुख्यमंत्री ने विधान सभा नैनीताल में 1328.13 लाख की योजनाओं का लोकार्पण किया, जिसके अन्तर्गत कुमाटी ग्राम पेयजल योजना लागत 20.50 लाख, कफूडा पेयजल योजना लागत 46.65 लाख, भतरौज रिंची थापल पेयजल 286.11 लाख, अमतोली पेयजल योजना 20.65 लाख, बोहराकोट पेयजल योजना 21.59 लाख, बिनकोट चन्द्रकोट मोटर मार्ग स्टेज-1 एवं 2 लागत 853.33 लाख तथा सेनिटोरियम सिरोडी बाईपास मार्ग में एमआरएफ सेन्टर निर्माण लागत 50.00 लाख की कुल 08 योजनाओं का लोकार्पण किया।

मुख्यमंत्री ने 20669.62 लाख की योजनाओं का शिलान्यास किया, जिसमें देवीधुरा ग्राम पेयजल योजना लागत 73.79 लाख,गेठिया पेयजल 102.70 लाख, बढैत पेयजल 88.86 लाख, बसगांव पम्पिंग योजना 1410.44 लाख, छडा सल्वा पेयजल 102.60 लाख, बगड पेयजल 835.75 लाख, कुनखेत पेयजल 75.15 लाख,सिमलखेत पेयजल योजना 29.39 लाख,डोला पेयजल 50.14 लाख, रियाड 92.72 लाख, रियाड तल्ला 23.27 लाख, अमगढी 63.60 लाख, घंघरेटी 141.51 लाख, रिखोली 187.10 लाख, भतरौज रिची 504.77 लाख, गरमपानी 102.41 लाख, डिग्थरी 30.55 लाख, जोशीखोला डाबरबाडी 92.78 लाख, बधानी ग्राम 49.92 लाख,डोटियाल गांव 41.36 लाख,चड्मूला 69.07 लाख, ग्वाल बजून 13.71 लाख, घटगढ 43.73 लाख,सोन खमारी 16.56 लाख,अनरोड़ी 19.38 लाख,लिंग लगा मंगोली 8.92 लाख,जलालगांव 26.31 लाख, बोहरागांव 37.39 लाख, मोतीबाग 8.53 लाख, थपलिया गॉजा 28.61 लाख, रौखड़ 56.00 लाख, भेवा 69.77 लाख,बजून 59.79 लाख, कलगांव 92.06 लाख, भर्गोमैन्ट 64.93 लाख,भल्यूटी 71.24 लाख, लाईसिला 85.72 लाख, बेल 118.52 लाख, ज्योलीकोट 155.69 लाख, ज्योली 172.12 लाख, गहलना 156.08 लाख, थापला 158.43 लाख, मंगोली 261.39 लाख, खुर्पाताल 351.62 लाख, भवानीपुर 364.23 लाख, नगारीगांव ल्वेशाल 498.60 लाख, मेहरागांव 489.54 लाख, बेलुवाखान 496.47 लाख, भराड़ी डोटियालगांव 24.09 लाख, बूंगा 48.74 लाख, जशियाधूना 43.58 लाख, बासोट चकपवास 24.09 लाख, हरचनोली 44.06 लाख, शेरबाड़ी 26.38 लाख, घिरोली 41.32 लाख, सेठी मझगांव 32.70 लाख, रौलियागांव 27.58 लाख, आटाखास 46.21 लाख, सिमराड़ 60.91 लाख, यसेनली 75.77 लाख, तड़ी 59.31 लाख, सेठी भण्डार एंव सेठी बेलगांव 91.56 लाख, सकदीना 72.76 लाख, तिवाडीगांव 54.68 लाख, टंगुणा बड़ा 61.48 लाख, सेठी धारकोट 91.62 लाख, भवालीगांव 101.74 लाख, खलाड़ 128.25 लाख, जाख 128.36 लाख, पांगकटारा 113.38 लाख, धनियाकोट 101.20 लाख, बसगांव 102.39 लाख, तल्ला गांव 190.76 लाख, बादरकोट तल्ला 194.13 लाख, सोनगॉव लग्गा चक 168.27 लाख, लोहाली 129.24 लाख, हरिनगर खलाड़ा 197.95 लाख, घूना 188.71 लाख, ओड़ाबाकोट 160.80 लाख, सिरोड़ी 188.71 लाख, सिमलखा 165.77 लाख, सूखा 186.05 लाख, हरतपा 221.55 लाख, तल्ला निगलाट 221.55 लाख, उल्गौर 233.53 लाख, बजेड़ी एंव पालड़ी 309.84 लाख, मल्लाकोट 282.00 लाख, घिरोली पाली 484.87 लाख, काण्डा 435.90 लाख, अमेल 468.92 लाख, पाडली 228.82 लाख, घोड़िया हल्सो 295.88 लाख, जिनोली 206.20 लाख, दाडिमा 203.24 लाख, छड़ा खैरना 362.78 लाख, हरिनगर हरतोला 329.77 लाख, सिल्टोना एंव सीम 445.04 लाख, थुवा ब्लाक 496.49 लाख, बैरोली 38.84 लाख , चैतुली 19.18 लाख, टिकुरा 36.13 लाख, सैलकुली 30.09 लाख, तल्ली सिनोली 48.14 लाख, निगराड़ डूमगांव 43.54 लाख, गाजा 17.02 लाख, धारा पातागुली 19.23 लाख, गंगरकोट 98.05 लाख, कूलागाड़ 60.44 लाख, सिमराड़ 75.25 लाख, गौड़ा 98.78 लाख, गैराड़ी लटवाल 90.23 लाख, जौरासी 175.18 लाख, चापड़ 129.73 लाख, गंगरकोट 140.76 लाख, मौना 164.68 लाख, सुयालगाढ़ 206.55 लाख, कूल 246.93 लाख, कूल चोपड़ा 332.93 लाख, गंगोरी मनरसा 232.18 लाख, डुंगरू मुंगरू 209.30 लाख, कमोली 202.91 लाख, पाण्डे गांव 72.35 लाख, फतेहपुर 46.57 लाख, स्यात 85.65 लाख, तलिया 74.46 लाख, डोन 65.27 लाख, परैवा 55.65 लाख, पातली 24.03 लाख, गौरीयादेव 27.37 लाख, हरिनगर बधूरा 43.00 लाख, बासी 198.97 लाख, ओखलढूगा 139.97 लाख एवं राजकीय आयुर्वेदिक चिकित्सालय बर्धो का भवन निर्माण लागत 118.77 लाख की कुल 134 योजनाओं का शिलान्यास किया।

मुख्यमंत्री धामी ने कैची धाम में लगने वाले जाम से निजात दिलाने हेतु भवाली सेनिटोरियम से रातीघाट तक बाईपास के निर्माण की घोषणा की साथ ही तल्ला रामगढ से क्वारब तक टूलेन सडक मार्ग निर्माण, विकास खण्ड भीमताल देवीधुरा-जमीरा-ज्सूडा- मोटर मार्ग निर्माण, विकास खण्ड कोटाबाग में ग्राम पंगूठ से गढचोली तक मोटर मार्ग निर्माण,विकास खण्ड बेतालघाट में रेवली 3.5 किमी मोटर मार्ग निर्माण,भवाली पर्यटक आवास गृह का उच्चीकरण एवं मरम्मत कार्य,नैनीताल में श्मशान घाट तक सडक निर्माण, नैनीताल शहर मे 50 वर्ष पुरानी सीवर लाईन को बदला जायेगा की घोषणा की।

अपने सम्बोधन में मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि सरकार द्वारा जितनी भी योजनाओं का शिलान्यास किया गया है जल्द ही इन योजनाआंे को धरातल पर उतरा जायेगा। उन्होंने कहा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में उत्तराखण्ड को विकास हेतु 9 वर्ष में 1.50 लाख करोड की धनराशि की योजनाओं पर कार्य किया गया। उन्होंने कहा हमारी सरकार का प्रयास है रोजगार के अवसर पैदा कर पलायन को रोकने के विजन पर कार्य कर रही है। धामी ने कहा सरकार द्वारा 813 करोड रूपये की धनराशि उद्यान, बागवानी हेतु किसानों को आत्मनिर्भर बनाने हेतु दिया गया है, आने वाले वर्ष में उत्तराखण्ड मे 50 हजार पॉलीहाउस बनाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। उन्होंने कहा प्रदेश का युवा, मातृशक्ति व किसान को आत्मनिर्भर बनाने के लिए विशेष प्रयास किये जा रहे हैं।

उन्होंने कहा प्रदेश में मातृशक्ति का सशक्तीकरण हो रहा है, मातृशक्ति के लोकल उत्पादों को देश व अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान मिली है। जिससे हमारी मातृशक्ति की आर्थिकी के साथ ही देश व दुनिया में नई पहचान मिली है। उन्हांेने कहा प्रदेश मे नकल विरोधी कानून बनने के पश्चात चार परीक्षायें आयोजित की गई इन परीक्षाओं में 4.5 लाख युवाओं ने परीक्षा दी है। धामी ने कहा पारदर्शिता के आधार पर परीक्षा हो रही है योग्य परीक्षार्थी को प्रतिभा के आधार पर सलेक्शन किया जा रहा है। उन्होंने कहा नकल विरोधी कानून हमारी सरकार ने बनाया है इसे देश के अन्य राज्य की मॉडल के रूप मे लागू कर रहे है। उन्होंने कहा अन्त्योदय योजना के अन्तर्गत माताओं एव बहनों को 3 गैस सिलंेडर निशुल्क दिये जा रहे है प्रदेश में अब तक 1 लाख 76 हजार लोगों को इस योजना से लाभ मिला है। मुख्यमंत्री ने कहा सरकार समान नागरिक संहिता बिल की दिशा में कार्य कर रही है जल्द ही इसे लागू किया जायेगा। उन्होंने कहा लैंड जेहाद को लेकर कठोर कानून लेकर आ रहे हैं तथा जबरन धार्मान्तरण को लेकर भी कडा कानून लेकर आये है साथ ही सरकार द्वारा राज्य आन्दोलकारियों को 10 प्रतिशत क्षैतिज आरक्षण दिया गया है। उन्होंने कहा सरकार द्वारा जितनी भी विकास परक योजनायें चलाई जा रही है उसमें हर वर्ग का सम्मान किया जा रहा है।

इस अवसर पर केन्द्रीय रक्षा एवं पर्यटन राज्यमंत्री अजय भटट एवं क्षेत्रीय विधायक सरिता आर्य ने सभी का स्वागत करते हुये सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं के बारे मे विस्तृत रूप से जानकारियां दी।

इस अवसर पर केन्द्रीय रक्षा एवं पर्यटन राज्यमंत्री अजय भटट, विधायक सरिता आर्य, रामसिंह कैडा, दीवान सिंह बिष्ट, अध्यक्ष जिला पंचायत बेला तोलिया,जिलाध्यक्ष प्रताप बिष्ट, आनन्द सिह बिष्ट, प्रदेश महामंत्री राजेन्द्र सिंह बिष्ट,मोहित लाल साह, मोहन नेगी, नवीन भटट, रंजन बर्गली,आशुतोष उपाध्याय, पंकज उप्रेती,रोहित भाटिया, सलमान जाफरी, कविता गंगोला, हिमांशु वर्मा, दया किशन पोखरिया, मनोज जोशी, गोपाल रावत, मोहित रौतेला, नितिन कार्की, विकास भगत, अरिवन्द पडियार, के साथ ही आयुक्त दीपक रावत, आईजी नीलेश आनन्द भरणे, जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल, एसएसपी पंकज भटट, मुख्य विकास अधिकारी डा0 संदीप तिवारी, निदेशक केएमवीएम विनीत तोमर, महाप्रबन्धक केएमवीएम एपी बाजपेयी, अपर जिलाधिकारी शिवचरण द्विवेदी, महानिदेशक एटीआई बीपी पाण्डे, निदेशक प्रकाश आर्य के साथ ही पदाधिकारी, गणमान्य व क्षेत्रीय जनता उपस्थित थी।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

HTML tutorial

Most Popular

error: Content is protected !!