चंपावत में सड़क हादसा तीन की मौत

उत्‍तराखंड के चम्पावत जिले के पाटी ब्लॉक में गुरुवार देर रात एक कार अनियंत्रित होकर खाई में गिर जाने से कार में सवार तीन लोगों की मौके पर ही मौत हो गई जबकि एक महिला गंभीर रूप से घायल हो हुई जिसे प्राथमिक उपचार के बाद हायर सेंटर रेफर कर दिया गया है।

बताया जा रहा है कि कार संख्या यूके 03 ए 7566 हरिद्वार से पाटी आ रही थी जो बाजार से दो सौ मीटर पहले खाई में गिर गई। हादसे में प्रदीप गहतोड़ी, बसंत गहतोड़ी, देवकी देवी निवासी ग्राम लड़ा पाटी की मौके पर ही मौत हो गई जबकि मंजू गहतोड़ी को रेफर किया गया है। हादसे में मां बेटे की मौत हुई है।

उत्तराखंड के पर्वतीय जिलों में लगातार ऐसे हादसे सामने आते रहे हैं एक ही परिवार के लोगों की सड़क हादसे में मौत से गांव में कोहराम मचा हुआ है चंपावत विधानसभा में इस समय उपचुनाव चल रहा है 31 मई को चंपावत उपचुनाव के लिए मतदान होना है ऐसे समय में सड़क हादसे से गांव में कोहराम मचा हुआ है वहीं परिवार वालों का पूरा हाल है।

पुलिस ने मौके पर पहुंचकर सभी शवों को जिला अस्पताल भिजवाया है जहां से पोस्टमार्टम के बाद उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा पहाड़ों में लगातार ऐसे हादसे होते रहते हैं इसके कारण समय-समय पर ऐसी घटनाएं सामने आती रहती है लेकिन बड़ा सवाल यह है कि रात में पर्वतीय जिलों में वाहनों को जाने की अनुमति क्यों दी जाती है ।

शायद इस हादसे में भी सभी लोगों की जान बच सकती थी अगर वह रात का सफर अपने गांव की तरफ नहीं करते रात में सफर करने के चलते यह हादसा हुआ और वाहन गहरी खाई में जा गिरा जिसकी परिणति रही कि एक ही परिवार के लोग काल के गाल में समा गए बरहाल इस हादसे से पुलिस प्रशासन भी सकते में है और सवाल उठ खड़े हुए हैं कि रात के समय ऐसे वाहनों की पर्वतीय जिलों में जाने पर रोक लगाई जाए ताकि हादसों पर विराम लग सके।

error: Content is protected !!