Google search engine
Monday, July 4, 2022
Google search engine
Homeउत्तराखंडभाजपा नेता संदीप के तीन हत्यारे गिरफ्तार

भाजपा नेता संदीप के तीन हत्यारे गिरफ्तार

भाजपा नेता संदीप के तीन हत्यारे गिरफ्तार Bjp leadar Murdar Case Police Arrest उधम सिंह नगर दि० 14/5/22 को प्रातः थाना पंतनगर क्षेत्रान्तर्गत शान्तिपुरी न03 मे गोविन्द सामन्त श्री ट्रेडर्स खनन पट्टा खेतों के पास खनन के वाहनों को रास्ते से हटाने को लेकर संदीप सिंह कार्की पुत्र जगत सिंह कार्की निवासी शान्तिपुरी न० 3 थाना पन्तनगर जनपद उधमसिंहनग व पंकज जोशी व विपक्षी 1 दीपक सिंह मेहता पुत्र मोहन सिंह मेहता 2- मोहन सिंह मेहता पुत्र भीम सिंह मेहता निवासीगण शान्तिपुरी न0 3 थाना पन्तनगर के बीच विवाद हो गया था।

मोहन सिंह व दीपक सिंह द्वारा मौके पर ललित मेहता को हथियार पिस्टल के साथ बुलाया गया व मौके पर तीनों ने एक राय होकर ललित मेहता ने पिस्टल से संदीप कार्की की छाती में गोली मारकर हत्या कर दी व अभि0 गण मौके से फरार हो गये।

मृतक के भाई किशन सिंह कार्की पुत्र स्व० जगत सिंह कार्की निवासी शान्तिपुरी न0 3 थाना पन्तनगर जनपद उधमसिंहनगर की तहरीर पर तत्काल ही थाना हाजा पर FIR 110-91/2022 धारा 341/302/323/506/34 भादवि बनाम। दीपक सिंह मेहता पुत्र मोहनसिंह मेहता 2-मोहन सिंह मेहता पुत्र भीम सिंह मेहता 3- ललित सिंह मेहता पुत्र मोहन सिंह मेहता निवासीगण शान्तिपुरी नD 3 थाना पन्तनगर पंजीकृत किया गया।

गिरफ्तारी हेतु वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक उधमसिंहनगर के आदेश के अनुपालन व पुलिस अधीक्षक रुद्रपुर एंव क्षेत्राधिकारी पन्तनगर के निर्देशन में प्रभारी निरीक्षक पंतनगर एवं SOG उधमसिंहनगर को अभियुक्त की गिरफ्तारी हेतु निर्देशित किया गया तथा उक्त घटना के अनावरण हेतु टीमें गठित की गयीं। उक्त टीमो द्वारा संयुक्त प्रयास करते हुए घटनास्थल के आस पास के CCTV फुटेज एंव संदिग्ध व्यक्तियों से पूछताछ के उपरान्त सूचना संकलन करते हुए घटना के विभिन्न कारणी एवं विवादो पर कार्य करते हुए वांछित अभि0 की गिरफ्तारी हेतु लगातार दबिश जारी रखते हुए दिनांक 15/16/5/22 को सूचना संकलन के आधार पर लालकुआ रोड मन्दिर मस्जिद के पास अभि0 मोहन सिंह मेहता पुत्र भीम सिंह मेहता को दिनांक 16.05.2022 को गिरफ्तार किया गया तथा अभि० ललित सिंह मेहता पुत्र मोहन सिंह मेहता का नगला वाई पास से आगे लालकुआ रोड पर गिरफ्तार किया गया तथा दीपक मेहता पुत्र मोहनसिंह मेहता को गिरफ्तार किया गया

जिनसे विस्तृत पूछताछ की गयी। अभि0 ललित मेहता की निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त आलाकत्ल एक अदद देशी पिस्टल 32 बोर व घटना में प्रयुक्त कार क्रेटा को बरामद किया गया है। अभिगण द्वारा विस्तृत पूछताछ की गई तो बताया गया कि, ” उनके और मृतक संदीप सिंह कार्की के मध्य खनन कार्यों को लेकर काफी दिनों से विवाद चल रहा था। हमको शक था कि हमारी जे०सी०बी खनन अधिकारियों से संदीप कार्की व पंकज जोशी की शिकायत पर पकड़ी गयी थी जिस पर हमे ढाई लाख रु जुर्माना देना पड़ा था जिस कारण रंजिश और गहरी हो गयी थी।

हमारी जे0सी0बी का डाईवर घटना के दिन नहीं आया था। हमने पंकज जोशी को उसकी जेसीबी से गाड़ी भरने के लिए कहा तो उसने मना कर दिया तब बात बढ़ गयी जिससे हमारी बेईज्जती हो गयी तब हमने अपना ट्रक रास्ता रोकने के लिए खड़ा कर दिया। जिससे विवाद बढ़ गया संदीप कार्की बीच बचाव करने लगा तथा पंकज जोशी का पक्ष लेने लगा तब ललित मेहता ने संदीप कार्की को अपनी पिस्टल से गोली मार दी और मौके से क्रेटा गाड़ी से फरार हो गये। खनन के वर्चस्व को लेकर उक्त विवाद हुआ था। अभिगणों का पूरा परिवार संगठित होकर अपराध कारित करता है जिनके विरुद्ध अग्रिम वैधानिक कार्यवाही भी की जाएगी। अभि0 ललित मेहता का पूर्व में भी आपराधिक इतिहास रहा है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!