Google search engine
Thursday, July 7, 2022
Google search engine
Homeदेहरादूनअरविन्द केजरीवाल की आप उत्तराखंड में अध्यक्ष विहीन

अरविन्द केजरीवाल की आप उत्तराखंड में अध्यक्ष विहीन

अरविन्द केजरीवाल की आप उत्तराखंड में अध्यक्ष विहीन Arvind Kejirwal App Party Uttarakhand देहरादून उत्तराखंड में अरविन्द केजरीवाल की आप पार्टी का विधानसभा चुनाव 2022 के बाद कुनबा बिखराव की तरफ जा रहा है ये वही राजनैतिक पार्टी है जो चुनाव से पहले फ्री बिजली देने की बात कर रही थी चुनाव में जनता ने आप को राजनैतिक हकीकत से जमीन दिखा कर रुखसत कर दिया आप के सी ऍम चेहरा कर्नल अजय कोठियाल पार्टी को छोड़ कर भाजपा में आ चुके है यही नहीं कई ऐसे नेता जो अपना राजनैतिक वजूद कायम करने के लिए आप में गए थे वो भी बैरंग लोट कर भाजपा में आ रहे है।

उत्तराखंड में आप पार्टी अपना राजनैतिक वजूद कायम करने के लिए जिस तेजी से उतरी थी उठी ही तेजी से अब उनके नेता पार्टी को अलविदा कहते हुए देखे जा रहे है नया नाम इस कड़ी में काशीपुर विधानसभा से चुनाव लड़ चुके एवं प्रदेश अध्यक्ष की कुर्सी पर आप के नेता दीपक बाली का आप को छोड़ देने राजनैतिक गलियारों में चर्चा का केंद्र बिंदु बन गया है। वो अभी ताजा ताजा काशीपुर की सियासत में अपना सिक्का कायम करने के लिए चुनाव लड़े थे लेकिन अब किस राजनैतिक पार्टी की तरफ जायेगे ये सवाल भी उठ रहा है।

आम आदमी पार्टी उत्तराखंड में अपना राजनैतिक वजूद कायम करने के लिउए जिस तेजी से सामने आयी थी लेकिन राज्य की एक भी सीट पर अपना प्रतिनिधि विधानसभा तक नहीं पंहुचा पाई अब पार्टी के नेता तेजी से पार्टी को अलविदा कहते हुए देखे जा रहे है ऐसे में वजूद के लिए अब आप पार्टी के पास उत्तराखंड में नेताओं की कमी देखी जा रही है आने वाले समय में पार्टी के वजूद को बचाये रखने के लिए अब कौन आगे आएगा ये सवाल भी उठ रहा है

मुट्ठी भर नेता उत्तराखंड में जिनका अपना कोई वजूद राजनैतिक रूप से जनता के बीच नहीं वो पार्टी का झंडा उठा पर अपनी राजनैतिक जमीन का सपना देख रहे है जिसका भविष्य लम्बे समय तक दूर दूर तक नज़र नहीं आता क्योकि भाजपा की सरकार में पार्ट टू पुष्कर सिंह धामी सरकार वजूद में आकर विकास की गाथा को आगे बढ़ाएगी यूथ से लेकर हर वर्ग की पसंद फ़िलहाल लम्बे समय तक धामी सरकार के पक्ष में देखी जा सकती है उम्मीद को लेकर चम्पावत की जनता अपना फैसला सुना चुकी है

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!