spot_img
Thursday, February 9, 2023
spot_imgspot_img
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
Homeक्राइमअंकिता हत्याकांड चार्ज शीट तैयार VIP नाम पर सस्पेंस

अंकिता हत्याकांड चार्ज शीट तैयार VIP नाम पर सस्पेंस

अंकिता हत्याकांड चार्ज शीट तैयार VIP नाम पर सस्पेंस Ankita Murder Case Chargesheet Vip Name Suspence

अंकिता हत्याकांड के तीनों आरोपियों के खिलाफ एसआईटी कोर्ट में चार्जशीट दाखिल कर रही है। 22 दिसंबर आरोपियों की गिरफ्तारी के तीन महीने पूरे हो रहे हैं कोर्ट में चार्जशीट दाखिल होने के बाद मुकदमे का ट्रायल शुरू होगा उत्तराखंड के चर्चित अंकिता हत्याकांड को लेकर सीबीआई जांच की मांग भी पीड़िता के परिजनों ने करते हुए कुछ संघठन के साथ अपना विरोध जताया था जो उत्तराखंड में अभी भी चल रहा है हलाकि सरकार के कैबिनेट मंत्री प्रेम चंद अग्रवाल ने सदन में एक सवाल के जवाब में ये कहा कर मामले में वीआईपी नाम नहीं होने की बात कही थी जिसके बाद से आंदोलन कर रहे लोगो की नाराजगी भी देखी गयी थी फिलहाल मांमले में पुलिस की चार्ज शीट कोर्ट में दाखिल किये जाने पर सबकी निगाहे लगी हुई है।

अंकिता हत्याकांड चार्ज शीट तैयार VIP नाम पर सस्पेंस

वीआईपी नाम पता करने के लिए एसआईटी ने आरोपियों के नार्को टेस्ट की अनुमति भी कोर्ट से मांगी। पुलकित और सौरभ भास्कर ने तो हामी भर दी थी। लेकिन, अंकित ने दस दिन का समय मांगा। इसकी सुनवाई 22 को ही होनी है।आपको बता दे उत्तराखंड में 18 सितंबर को वनंत्रा रिजॉर्ट से पौड़ी निवासी अंकिता भंडारी अचानक गायब हो गई थी। पहले राजस्व पुलिस ने जांच में हीलाहवाली की। इसके बाद मामले की जांच रेगुलर पुलिस को सौंपी गई।

शनिवार को उत्तराखंड पुलिस मुख्यालय में ADG वी मुर्गेशन एवं DIG अपराध एवं कानून SIT प्रभारी पी रेणुका देवी मीडिया से मामले पर कोर्ट में शामिल होने वाली चार्ज शीट को लेकर वार्ता करेंगे अभी तक पुलिस ने मामले में क्या क्या किया उसकी जानकारी भी पुलिस देगी उत्तराखंड में हाई प्रोफाइल मामले में बीजेपी नेता विनोद आर्य जो हरिद्धार के रहने वाले है उनके बेटे पुलकित आर्य भी मामले में आरोपी है ऐसे में VIP नाम को लेकर अधिक राजनैतिक सरगर्मी है हर कोई नाम का खुलासा चाहता है आखिर मामले में कोई नाम था भी या नहीं ये अभी कोर्ट में दाखिल होने वाली चार्ज शीट पर भी देखने वाला है।

उत्तराखंड में अंकिता हत्याकांड से बीजेपी को काफी नुकसान राजनैतिक रूप से हुआ है हलाकि उत्तराखंड सरकार के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने निर्देश पर मामले में तीनो आरोपी पुलिस गिरफ्तार करते हुए जेल भेज चुकी है विपक्ष मामले को राजनैतिक रूप से फायदा लेने के लिए लगा हुआ है ऐसे में सवाल जनता भी उठा रही है गढ़वाल मंडल में मामले को लेकर लोगो के बीच काफी नाराजगी देखने को मिली थी।

Uttarakhand News उत्तराखंड हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे वेब पोर्टल भड़ास फॉर इंडिया Bhadas4india को विजिट करे आपको हमारी वेबसाइट पर Dehradun News देहरादून न्यूज़ के साथ Uttarakhand Today News Breaking News हर खबर मिलेगी हमारी हिंदी खबरे शेयर करना नहीं भूले

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!