देवभूमि में शराब बंदी पर बाहुबली सरकार का बाहुबली फैसला

0
279

देवभूमि में शराब बंदी पर बाहुबली सरकार का बाहुबली फैसला Wine Shop Open For Only Six hours in Uttarakhand Cm Rawat Told Says

देहरादून उत्तराखंड में शराब के खिलाफ महिलाओं की बगावत एक असर भाजपा सरकार पर भी देखा जा रहा है। यही वजह है की राज्य सरकार उत्तराखंड में शराब की बंदी को लेकर राज्य के मुख्यमंत्री ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा की राज्य में शराब की दुकान महज ६ घंटे के लिए ही खोली जाएगी इस बयान के बाद होटलो में बारो का समय क्या रहेगा इस का अभी कोई पता नहीं है। उत्तराखंड राज्य में इन दिनों शराब बंदी का विरोध मैदानी जनपदों से लेकर पर्वतीय जनपदों में जा पंहुचा थी यही वजह रही की राज्य सरकार शराब बंद किये जाने को लेकर राज्य में क्या उपाय किये जाये इस को लेकर अपनी कोशिश में जुटी थी।

उत्तराखंड में भाजपा सरकार के मुख्यमंत्री का एक माह का कार्यकाल अभी तक जनता के बीच कोई असर नहीं छोड़ पाया है। खनन से लेकर शराब के मामले में राज्य सरकार जहा बैक फुट पर रही वही भाजपा सरकार का जनता के बीच कोई सन्देश न दिया जाना भी सोचनीय विषय बन गया था इसी को देखते हुए उत्तराखंड में शराब बंदी को लेकर मुख्यमंत्री ने समय में कटौती का ऐलान किया है। उत्तराखंड में शराब बंदी को लेकर सरकार का ये हाल में तब है जब जनता ने उत्तराखंड में भाजपा सरकार को बहुमत से कही अधिक बाहुबली सरकार का विधानसभा में वजन दिया है। मतलब उत्तराखंड में भाजपा के पास विधानसभा में 57 विधायकों का बड़ा कुनबा मौजूद है लेकिन इस के बाद भी राज्य सरकार अभी तक अपनी जनता की सरकार का विजन और ब्लू प्रिंट तैयार नहीं कर पायी है।

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत का उत्तराखंड में एक माह का कार्यकाल पूरा हो चूका है शराब के खिलाफ चल रहे इस अभियान ने उत्तराखंड सरकार को यह सोचने पर मजबूर कर दिया है। की आखिर वो उत्तराखंड में किस तरह की पॉलिसी को अंजाम तक पंहुचा कर जनता को जनता की सरकार का सन्देश दे सके यही कारण है की भाजपा सरकार ने उत्तराखंड में शराब का समय कम किये जाने को लेकर आबकारी विभाग को प्रस्ताव तैयार किये जाने के निर्देश दिए है। जल्द उत्तराखंड सरकार प्रस्ताव को अपनी कैबिनेट में लाकर इस को राज्य में लागू कर सकती है।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments