विजय माल्या लंदन में गिरफ्तार ट्ववीट किया मिली जमानत

0
188

विजय माल्या लंदन में गिरफ्तार ट्ववीट किया मिली जमानत Vijay Mallya Bail After Extradition Hearing in London Court Twitter Tweet Mallya
भारत में लंदन से गिरफ्तार किये गए विजय माल्या को लेकर जब सारा मीडिया उनकी गिरफ्तरी की खबर दिखा रहा था उसके दोपहर तक विजय माल्या ने लंदन में अपनी जमानत ले ली। और अपने ट्विटर पर लिखा की भारत में उनकी खबर को इस तरह दिखाया जा रहा है जैसे कोई बड़ा अपराध किया हो उन्होंने अपनी जमानत को लेकर भी ट्ववीट किया है।
2016 से फरार चल रहे शराब कारोबारी को वेस्टमिंस्टर अदालत के आदेश पर स्कॉटलैंड यार्ड की पुलिस ने मंगलवार को करीब 9:30 सुबह (भारतीय समयानुसार) गिरफ्तार किया। उनपर भारतीय बैंकों के 9000 करोड़ सहित कुल 12000 करोड़ रुपए से ज्यादा का कर्ज नहीं चुकाने का आरोप है।

उन्हें लंदन के वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट कोर्ट में पेश किया जहा से उनको जमानत मिल गयी विजय माल्या की गिरफ्तारी वेस्टमिंस्टर कोर्ट के आदेश पर हुई है।भारत सरकार ने 8 फरवरी को विजय माल्या के प्रत्यर्पण के लिए ब्रिटेन की सरकार को अर्जी भेजी थी. जनवरी 2017 में सीबीआई कोर्ट ने माल्या के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी किया था।

किस बैंक पर है कितना कर्ज

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया पर 1600 करोड़, पंजाब नैशनल बैंक पर 800 करोड़, आईडीबीआई बैंक पर 800 करोड़, बैंक ऑफ इंडिया पर 650 करोड़, बैंक ऑफ बड़ौदा पर 550 करोड़, यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया पर 430 करोड़, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया पर 410 करोड़, यूको बैंक पर 320 करोड़, कॉरपोरेशन बैंक पर 310, स्टेट बैंक ऑफ मैसूर पर 150 करोड़, इंडियन ओवरसीज बैंक पर 140 करोड़, फेडरल बैंक पर 90 करोड़, पंजाब एंड सिंध बैंक पर 60 करोड़ और एक्सिस बैंक पर 50 करोड़ रुपए का कर्ज है।

क्या है मामला

माल्या पर सरकारी बैंकों से लिए गए नौ हजार करोड़ रुपए से ज्यादा के कर्ज की देनदारी है. माल्या ने करीब 8.2 हजार करोड़ रुपए अपनी कंपनी किंगफिशर एयरलाइंस समेत कई कंपनियों के नाम पर ले रखे थे। बैंकों की शिकायत पर उसके खिलाफ भारत सरकार का प्रवर्तन निदेशालय और केंद्रीय जांच ब्यूरो समेत कई एजंसियां जांच कर रही हैं. उसके खिलाफ आर्थिक गबन के कई मामले चल रहे हैं। कुछ मामलों में अदालत के निर्देश पर माल्या की कंपनियों के स्वामित्व वाली परिसंपत्तियां जब्त की गई हैं. बैंकों का कर्ज न चुकाने और देश छोड़कर भाग जाने के कारण माल्या के प्रकरण में सरकारी को खासी शर्मिंदगी उठानी पड़ी है। जब बैंकों ने कर्ज वसूली के लिए अदालत का दरवाजा खटखटाया तो माल्या मार्च 2016 में ब्रिटेन भाग गया था।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments