विजय बहुगुणा ने कांग्रेस पीठ में छुरा भोंका,हरीश

0
389

विजय बहुगुणा ने कांग्रेस पीठ में छुरा भोंका,हरीश
देहरादून हेम वती नंदन बहुगुणा का जन्मं दिवस जहां राज्य की राजनीती में एक नयी परिभाषा को बया कर गया वही जनम दिवस पर हुई राजनीती भी राज्य की जनता ने देख ली हिमालय चन्दन नाम से जाने जाने वाले हैमवती नंदन बहुगुणा का जन्मदिवस पर कांग्रेस ने जहां संक्लप लिया वही विजय बहुगुणा कांग्रेस कार्यक्रम से पूर्व ही मूर्ति पर पुष्प चढ़ा कर चले गए इस अवसर पर हरीश रावत ने कहा की हेमवती नंदन जी विकास पुरुष थे। उन्होंने हमेशा सांप्रदायिक ताकतों के खिलाफ लड़ाई लड़ी और सद्भाव को बढ़ाया। लेकिन, उनके पुत्र तो सांप्रदायिक ताकतों की गोद में जाकर बैठ गए। हेमवती नंदन जब कांग्रेस से असंतुष्ट हुए तो अपने पदों से इस्तीफा दिया, न कि सरकार को गिराया और विकास को प्रभावित किया। बागियों की बातों से मेरी तुलना करना अपमान है। 2007 और 2012 में हम कुछ विधायक असंतुष्ट थे, लेकिन पार्टी के फोरम पर ही हमने अपनी बात रखी। लेकिन, उन्होंने तो भाजपा में अपनी अर्जी लगाई। पार्टी ने कितना कुछ दिया, मगर उन्होंने पीठ में छुरा भोंका और जनता का अपमान भी किया। वो अपने नए आकाओं से विधानसभा भंग करा चुनाव कराने को कहें। सत्ता की आड़ में विचारधारा और लोकतंत्र की हत्या की जा रही है। सभी को एकजुट होकर इसके खिलाफ लड़ाई लड़नी होगी।
आखिर क्या मज़बूरी थी जो ये सियासत जरुरी थी
कहने को तो कांग्रेस ने पर्वत पुत्र हेमवती नंदन बहुगुणा की 97वीं जयंती को सद्भावना दिवस के रूप में मनाया, लेकिन यह दिन समर्पित नजर आया सूबे के सियासी घटनाक्रम को। सभी ने सद्भावना को किनारे रख एक-दूसरे पर शब्द रूपी बाणों से निशाना साधा, चाहे वो कांग्रेस के बागी विधायक हों या निवर्तमान मुख्यमंत्री हरीश रावत। बागियों ने वार किया तो हरीश रावत भी पलटवार करने से पीछे नहीं हटे। हर कोई खुद को हेमवती नंदन के पदचिह्नों पर चलने वाला और प्रदेश का सबसे बड़ा खैरख्वाह बताने की कोशिश कर रहा था। सोमवार को हेमवती नंदन बहुगुणा की 97वीं जयंती पर बहुगुणा स्मृति समिति की ओर से कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसमें पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा, कांग्रेस के बागी विधायक हरक सिंह रावत, सुबोध उनियाल, उमेश शर्मा काऊ, प्रदीप बत्र शामिल हुए। कार्यक्रम में मेयर विनोद चमोली, पूर्व विधायक रणजीत वर्मा, महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष सुशीला बलूनी भी मौजूद रहीं। इसके बाद पर्वत पुत्र की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित करने निवर्तमान मुख्यमंत्री हरीश रावत, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय, राजपुर विधायक राजकुमार समेत तमाम कांग्रेसी नेता पहुंचे।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments