उत्तराखंड विधानसभा अवैध नियुक्ति स्थाईकरण पर हाईकोर्ट की रोक

0
197

उत्तराखंड विधानसभा अवैध नियुक्ति स्थाईकरण पर हाईकोर्ट की रोक Vidhansabha Uttarakhand 158 Job Scam
देहरादून उत्तराखंड विधानसभा में पत्रकार की बीवी से लेकर नौकरानी तक सरकारी नौकरी पाने,गलत तरह से पारिवारिक लोगो को नौकरी दिए जाने मामले पर हाईकोर्ट ने इसकी सुनवाई आगामी माह में विधानसभा के अधिकारिर्यो को नौकरी को इस्थाई किये जाने पर अग्रिम आदेश तक रोक लगा दी है उत्तराखंड विधानसभा में सरकारी नौकरी पाए जाने के खेल में कई मीडिया वालो, राजनैतिक लोगो के परिजन और विधानसभा के कई अफसरों ने कांग्रेस सरकार के समय इस कारनामे को अंजाम दिया था जब विधानसभा अध्यक्ष के पद पर गोविन्द सिंह कुंजवाल विराजमान थे कांग्रेस शासनकाल में विधानसभा में की गई 158 नियुक्तियों को लेकर कांग्रेस के पास कोई जवाब नहीं है।  उत्तराखंड विधानसभा अवैध नियुक्ति मामले पर स्थाईकरण पर हाईकोर्ट की रोक

उत्तराखंड विधानसभा में सरकारी नौकरी पाने के लिए मीडिया से लेकर राजनैतिक अधिकारी तक के परिजनों ने बहती गंगा में हाथ साफ किया था लेकिन उत्तराखंड में भाजपा की सरकार आने के ६ महीने बाद भी अभी तक विधानसभा की अपने तरह से की जा रही जांच कहा तक पहुंची इसको लेकर सवाल उठाने तेज़ हो गए है विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल ने कहा था की वो सभी सरकारी नौकरी को लेकर जांच करेंगे लेकिन उनकी जांच का पैमाना कहा तक पंहुचा है इसको लेकर जनता के बीच आवाज़ उठ रही है आखिर कब उनको इस सच से पर्दा उठेगा की विधानसभा में की गयी कांग्रेसी राज में गलत तरह से अवैध सरकारी नौकरी पर लोगो को लगाया गया।

नैनीताल हाई कोर्ट ने आज इस मामले पर सुनवाई करते हुए आगामी आदेश तक किसी भी तरह से नौकरी पाने वाले लोगो को सरकारी सेवा में स्थाईकरण न किया जाने का आदेश भी दिया है उच्च न्यायालय ने विधानसभा में अवैध नियुक्ति मामले में आज के अन्तरिम आदेश से अगली सुनवाई तक नियुक्ति को स्थाईकरण करने पर रोक लगाई । न्यायालय ने विधानसभा सचिवालय को 7 अक्टूबर तक अपना जवाब दाखिल करने को कहते हुए 9 अक्टूबर को मामले में पुनः सुनवाई रखी है मुख्य न्यायाधीश के.एम.जोसफ और न्यायमूर्ति आलोक सिंह की खंडपीठ में देहरादून निवासी राजेश चंदोला एवं अन्य बनाम उत्तरखण्ड विधानसभा सचिवालय देहरादून के मामले पर सुनवाई हुई थी बताया जा रहा इस मामले को लेकर कई लोगो की आने वाले दिनों में मुश्किल बढ़ेगी।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments