फूलो की घाटी में पर्यटको का प्रवेश बंद

0
976

फूलो की घाटी में पर्यटको का प्रवेश बंद  

देहरादून: मौसम भले साफ है, मगर दुश्वारियां कम होने का नाम नहीं ले रहीं। विश्व धरोहर फूलों की घाटी में पैदल ट्रैक पर बामणधौड़ में गुरुवार को भूस्खलन के बाद सैलानियों के प्रवेश पर फिलहाल रोक लगा दी गई है। इससे पहले वहां 86 पर्यटक फंस गए थे, जिन्हें तीन घंटे बाद एसडीआरएफ और फूलों की घाटी पार्क प्रशासन की टीम ने सुरक्षित निकालने में कामयाबी पाई।  बरसात के मौसम को देखते हुए राज्य सरकार सभी ज़िला अधिकारियो को निर्देश जारी कर चुकी है वही दूसरी तरफ कुमाऊ के कपकोट विधानसभा में पढ़ने वाली सरयू नदी में दो लोगो के बह जाने से मौत की खबर भी आ रही है राज्य में अभी तक कई लोग बारिश के कारण मर चुके है

उत्तराखंड में कई जगह चार धाम यात्रा मार्ग  बंद 

वहीं, राज्य के ग्रामीण अंचलों में भूस्खलन के कारण 157 सड़कें बंद हैं। इसके अलावा चारधाम यात्रा मार्गाें के खुलने और बंद होने का सिलसिला जारी है। सात दिन बाद खुला गंगोत्री राजमार्ग बुधवार रात फिर गंगनानी में बंद हो गया, जबकि केदारनाथ राजमार्ग अभी नहीं खुल पाया है। मौसम विभाग की मानें तो कुछ स्थानों में हल्की वर्षा के आसार हैं।गुरुवार सुबह 86 सैलानियों का दल फूलों की घाटी की सैर को निकला। वापस लौटते वक्त दोपहर करीब दो बजे यह दल बामणधौड़ में भूस्खलन के कारण पैदल मार्ग बंद होने के चलते वहीं फंस गया। साथ चल रहे वनकर्मी ने वायरलेस से इसकी सूचना अधिकारियों को दी। इसके बाद घांघरिया से मौके पर पहुंची एसडीआरएफ और वनकर्मियों की टीम ने रेस्क्यू कर शाम पांच बजे पर्यटकों को सुरक्षित निकाला। उधर, वन क्षेत्राधिकारी दीपक रावत ने बताया कि भूस्खलन से मार्ग बाधित होने के चलते फिलहाल फूलों की घाटी में सैलानियों के प्रवेश रोक लगा दी गई है। क्षतिग्रस्त पैदल ट्रैक को बनाने का कार्य जल्द शुरू किया जाएगा।

चार धाम यात्रा पर भारी बरसात      

वहीं, चारधाम यात्रा मार्गाें पर भी दिक्कतें बरकरार हैं। सात दिन बाद खुला गंगोत्री राजमार्ग गंगनानी के पास बुधवार रात मलबा आने से दोबारा बंद हो गया, जबकि केदारनाथ राजमार्ग तीसरे दिन भी नहीं खुल पाया। यमुनोत्री राजमार्ग भी बाधित चल रहा है। इससे यात्रियों को दिक्कतें उठानी पड़ रही हैं। यही नहीं, राज्य के ग्रामीण अंचलों में 157 संपर्क मार्ग बंद होने से लोगों को आवाजाही में दिक्कतें उठानी पड़ रही हैं। चमोली और पौड़ी जिले में सर्वाधिक 23-23 मार्ग भूस्खलन के कारण बंद हैं।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments