उत्तराखंड में हरीश रावत करेगे राजनैतिक डायनसोर का वध

0
1522

उत्तराखंड में हरीश रावत करेगे राजनैतिक डायनसोर का वध

देहरादून  राजनीती में निर्दलीय विधायको की राजनैतिक ब्लैक मेलिंग का शिकार भाजपा कांग्रेस दोनों ही सरकारे होती रही है यही कारन है की राज्य की राजनीती में हमेशा ही कांग्रेस हो या भाजपा दोनों ही दलो को निर्दलीय विधयाको ने राजनैतिक नुकसान दिया है चुनावी समर में दोनों ही राजनैतिक दलो को निर्दलीय हमेशा सत्ता की मलाई को खाने का केंद्र बिंदु बनते रहे है वर्तमान समय में उत्तराखंड की राजनीती में निर्दलीय भाजपा और कांग्रेस दोनों को भी नुकसान के रूप में राजनैतिक जख्म देते आये है चुनावी दंगल में जाने से पहले निर्दलीय राज्य से लेकर देश भर में अपनी राजनैतिक ब्लैक मेलिंग से भाजपा कांग्रेस के साथ साथ सत्ता का केंद्र बिंदु बनते रहे है यही कारन है की देश की राजनीती में निर्दलीय किसी भी सर्कार को पलटने का कारन बनते जा रहे है

भाजपा कांग्रेस को राजनैतिक फायदे के लिए इस्तमाल करते निर्दलीय
उत्तराखंड की राजनीती में निर्दलीय हमेशा सत्ता में रहकर राजनैतिक दलो को नुकसान देते आये है लेकिन इस के बाद भी सरकारों में राजन वाले राजनैतिक दल इन निर्दलीय विधयाको के राजनैतिक ब्लैकमेलिंग से बच नहीं प् रहे यही नहीं सत्ता में रह कर ये लगातार जिस तरह से भाजपा कांग्रेस के अंदर एक जख्म के रूप में आगे बढ़ रहे है वो किसी भी समय राज्य की राजनीती से लेकर देश की राजनीती के लिए बड़े खतरे से काम नहीं उत्तराखंड में भाजपा की सर्कार रही हो या फिर कांग्रेस की सरकार दोनों ही सरकारों में निर्दलीय विधयाको ने अपनी राजनैतिक ब्लैकमेलिंग को जारी रखा जिस का परिणाम ये रहा की भाजपा और कांग्रेस दोनों ही राजनैतिक दलो का कार्यकर्त्ता दूर होता चल गया सवाल ये भी उठ रहा है की भाजपा और कांग्रेस दोनों ही राजनैतिक दल क्या निर्दलीय विधयाको को लेकर चुनावी दंगल में जाने से पहले कोई ऐसी घोषणा करेगे की निर्दलीय किसी भी विधायक का सरकार बनाये जाने में कोई सहयोग नहीं लिया जायेगा
निर्दलीय को राजनैतिक अभीमन्यु बनाकर मिलेगी सत्ता की कुर्सी
उत्तराखंड में सरकार २०१७ में बनाये जाने के लिए राजनैतिक महाभारत सुरु हो गयी है लेकिन सत्ता के लिए निर्दलीय विधायको का राजनैतिक वध किया जाना भी जरुरी हो गया है उत्तराखंड में वर्तमान मुख्यमंत्री हरीश रावत को भाजपा के मुकाबले राजनैतिक अर्जुन की तरह निशाना लगाया जाना करार दिया जा रहा है लेकिन हरीश रावत को इस बार निर्दलीय विधयाको का वध किया बिना सत्ता का दरवाजे की चाबी मिलना आसान नहीं है यही हल भाजपा के लिए भी राज्य में बना हुआ है भाजपा को भी निर्दलीय विधयाको को अभीमन्यु बनाये जाने के लिए अपनी राजनैतिक महाभारत को सुरु करना होगा

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments