उत्तराखंड में शराब बंदी पर हाई कोर्ट गंभीर

0
565

उत्तराखंड में शराब बंदी पर हाई कोर्ट गंभीर

नैनीताल तीर्थनगरी ऋषिकेश में ड्राई एरिया के बावजूद बार लाइसेंस देने के मामले में हाई कोर्ट ने सख्त रुख अपनाया है। कोर्ट ने इस मामले को लेकर दायर जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए देवभूमि में शराब के बढ़ते प्रचलन पर सख्त टिप्पणी की। साथ ही जनहित याचिका को निस्तारित कर दिया है। ग्राम व पोस्ट कोटी डोइवाला ऋषिकेश निवासी उदयनारायण तिवारी ने जनहित याचिका दायर की थी। जिसमें कहा गया था कि नटराज चौक में फारेस्ट व्यू प्वाइंट ऋषिकेश में बार का संचालन किया जा रहा है। बार के लाइसेंस जारी करने में नियमों का उल्लंघन किया गया है। याचिका में कहा गया था कि राज्य सरकार ने शासनादेश जारी कर हरिद्वार-ऋषिकेश जैसे तीर्थस्थलों में नगरपालिका सीमा में शराब की दुकान प्रतिबंधित कर दिया था। आदेश में चारधाम यात्रा मार्ग में भी शराब की दुकान नहीं खोलने का जिक्र था। इसके बावजूद यात्रा का प्रमुख पड़ाव होने के बावजूद तीर्थनगरी में बार का लाइसेंस दे दिया गया। वरिष्ठ न्यायाधीश न्यायमूर्ति राजीव शर्मा व न्याममूर्ति आलोक सिंह की खंडपीठ ने मामले को सुनने के बाद फैसला सुरक्षित रख लिया। साथ देवभूमि में शराब की बिक्री को लेकर तख़्त टिप्पणी भी की।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments