उत्तराखंड एक साल में बना नंबर एक, जानकर हो जायेगे आप भी हैरान

0
258

उत्तराखंड एक साल में बना नंबर एक, जानकर हो जायेगे आप भी हैरान:Uttarakhand Number One State In Strike

Uttarakhand Number One State In Strike 

देहरादून उत्तराखंड में क्या आपको पता है इनका नाम हड़ताली प्रदेश के रूप में नंबर एक पर शुमार हुआ है करीब 6 हज़ार से अधिक कर्मचारी लोगो ने उत्तराखंड में एक साल में हड़ताल को किया गया है जिसकी संख्या करीब २१ हज़ार से अधिक रही है जबकि दूसरे नंबर पर तमिलनाडु रहा है उत्तराखंड राज्य में अभी सिर्फ १३ ज़िलों का छोटा सा सरकारी सिस्टम अगर इस राज्य को हड़ताली प्रदेश के रूप में शुमार किये जाने के लिए जाना जायेगा तो इस राज्य में विकास का पैमाना किस तरह होगा इसका आकलन भी इस राज्य की जनता के साथ साथ अधिकारी वर्ग और राजनीती में रहने वाले नेताओं को करना होगा

हड़ताल के कारण जहा राज्य का विकास बाधित होता है वही इसके कारण विभाग से लेकर ऍम जनता को भी परेशानी का समाना करना पड़ता है राज्य के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत भी उत्तराखंड में एक साल के अंदर सबसे अधिक हड़ताल किये जाने वाले प्रदेश को लेकर अपनी चिंता जाहिर की है उन्होंने सितारगंज में जनता को सम्बोधित करते हुए कहा की राज्य की जनता के लिए हमें सत्ता की कुर्सी पर लाया गया है जिसके लिए हम जनता की उम्मीद पर विकास का पत्थर लगा कर उसको आगे ले जा रहे है लेकिन राज्य में किसी भी कीमत पर जीरो टॉलरेंस की सरकार के मिशन को आगे बढ़ाये जाने के लिए कोई कमी नहीं होने दी जाएगी उन्होंने कहा की नेशनल हाईवे ज़मीन घोटाले की तरह सिडकुल ज़मीन में हुए घोटाले को लेकर भी किसी भी तरह से आरोपियों को उसी जगह पर भेजा जायेगा जहा पर नेशनल हाई वे ज़मीन के लोगो को भेजा गया है मुख्यमंत्री ने कहा की उधम सिंह नगर में बड़े मामलो को लेकर यही से सभी तरह के तार उजागर हो रहे है जिसमे राज्य सरकार कारवाही को अंजाम दे कर अधिकारी से लेकर दूसरे लोगो को जेल की सलाखों के पीछे भेज चुकी है

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments