कैंची धाम बाबा नीम करोली की तीन बातें

कैंची धाम बाबा नीम करोली की तीन बातें

कैंची धाम बाबा नीम करोली की तीन बातें बाबा नीम करोली महाराज दर्शन को लेकर पहली बार सुरक्षा की नज़र से कैंची धाम श्रद्धालुओं के आवागमन हेतु बंद रखा गया आस्था के मंदिर में दर्शन के लिए दूर दराज से लोगो का हुजूम बाबा धाम में आता है हर साल 15 जून को यहाँ देश दुनिया के लोगो का मंदिर आना होता है मेले के रूप में बाबा नीम करौरी महाराज का जन्म दिवस उत्सव के रूप में मनाया जाता है। कहा जाता है वो सिद्ध पुरुष थे कुछ लोग उनको कई मान्यताओं के अनुसार नीम करोली बाबा को कलयुग में हनुमान जी का अवतार बताया गया है।

कैंची धाम में उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ का चन्दन लगाकर स्वागत किया गया उत्तराखंड गवर्नर गुरमीत सिंह ने उनका स्वागत किया उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने बृहस्पतिवार को कैंची धाम पहुंचकर बाबा नीब करौरी महाराज के दर्शन कर पूजा अर्चना की।

उपराष्ट्रपति कैंची धाम में एक घंटे तक पूजा अर्चना करेंगे। मंदिर समिति और प्रशासन की ओर से उपराष्ट्रपति को बाबा की मूर्ति देकर स्वागत किया। उपराष्ट्रपति के मंदिर में पूजा अर्चना के कार्यक्रम के दौरान श्रद्धालुओं का आवागमन बंद रखा गया।

हर व्यक्ति अमीर नहीं हो सकता। धनवान केवल वही बन सकता है, जिसे धन का सही प्रयोग करना आता हो और उसकी उपयोगिता मालूम हो। व्यक्ति को पता होना चाहिए कि धन को कहां और कैसे खर्च करना है। बाबा नीम करौली का यह भी मानना है कि यदि आपका धन किसी जरूरतमंद के काम नहीं आता, तो आपके धनवान होने का कोई अर्थ नहीं है।

नीम करोली बाबा ने अमीर व्यक्ति की एक खास पहचान बताई है। उसका मानना है कि जिस व्यक्ति का चरित्र और आचरण अच्छा होता है और जो ईश्वर में विश्वास रखता है, असल में वही दुनिया का सबसे बड़ा धनी व्यक्ति है। इसलिए अमीर बनने के लिए व्यक्ति में यह तीन गुण जरूर होने चाहिए। इन गुणों वाले व्यक्ति को गरीब नहीं कहा जा सकता।

20वीं सदी के महान संतों में शामिल, नीम करोली बाबा अपने दिव्य शक्तियों के कारण लोकप्रिय हैं। नीम करोली बाबा में कई लोगों की आस्था है। इनकी ख्याति दूर-दूर तक फैली हुई है। उनके द्वारा दिए गए विचारों पर लोग आज भी अमल करते हैं।