उत्तराखण्ड में चलाई जा रही परिवर्तन यात्रा पर टिप्पणी

0
172

उत्तराखण्ड में चलाई जा रही परिवर्तन यात्रा पर टिप्पणी

देहरादून उत्तराखण्ड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मुख्य प्रवक्ता मथुरादत्त जोशी ने भारतीय जनता पार्टी के केन्द्रीय नेतृत्व द्वारा उत्तराखण्ड राज्य में चलाई जा रही परिवर्तन यात्रा पर टिप्पणी करते हुए कहा कि भाजपा को अपनी पार्टी के शसन वाले राज्यों में परिवर्तन यात्रायें निकालने की आवष्यकता है। उन्होंने कहा कि भाजपा के नेता केवल बड़ी-बड़ी बातें करना जानते हैं तथा बाद में अपनी कही बातों को चुनावी जुमले कह कर भारत के मतदाता का मजाक उड़ाते हैं।
मथुरादत्त जोषी ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी दिल्ली, तमिलनाडु तथा विहार के चुनाव में अपना हश्र भूल गई है। भाजपा जहां एक ओर दिल्ली में तीन सीटों पर आकर सिमट गई वहीं तमिलनाडु में 2 प्रतिषत वोट ही हांसिल कर पाई तथा ताजा उदाहरण विहार के विधानसभा चुनाव का है जहां भाजपा के बडबोले नेताओं का गुरूर वहां की जनता ने तोड़ दिया। भाजपा के नेता जिस प्रदेष में जाते हैं वहां पर उस राज्य को नम्बर 1 बनाने की बात करते हैं पर जहां पर उनकी सरकारें हैं वहां पर उनके मुख्यमंत्री और मंत्री भ्रश्टाचार में आकंठ डूबे हुए हैं। परिवर्तन की बात करने वाली भाजपा के नेताओं को यह बताना चाहिए कि जहां पर उनकी सरकारें हैं उन राज्यों में उसने क्या परिवर्तन किये। भाजपा के पूर्व मुख्यमंत्री अपनी सरकार की उपलब्धियां बताने की बजाय अपना भ्रश्टाचार छुपाते फिर रहे हैं। पिछले चुनाव में भाजपा ने एक जुमला दिया था ‘खण्डूरी है जरूरी’ फिर खण्डूरी खुद ही क्यों हार गये। राज्य बनने के बाद भाजपा की अंतरिम सरकार ने राज्य की राजधानी का मामला ऐसे उलझाया कि आज तक नहीं सुलझ पाया। तत्तकालीन भाजपा सरकार की कमजोरियों के कारण राज्य की परिसम्पत्तियों का बंटवारा नहीं हो पाया। उत्तराखण्ड में परिवर्तन की बात करने वाली भाजपा ने केन्द्र की सत्ता में आने के बाद राज्य का विषेश राज्य का दर्जा समाप्त कर दिया। कैलाष मानसरोवर को उत्तराखण्ड से जाने वाला रास्ता बदलवाकर उत्तराखण्ड के पर्यटन केा क्षति पहुंचाने का काम किया। राज्य में होने वाले धर्मिक आयोजनों अर्द्ध कुम्भ का पैसा रोक कर लोगों की धार्मिक भावनाओं से खिलवाड़ करने का काम किया और तो और राज्य के अनुसूचित जाति और जनजाति वर्ग के गरीब विद्यार्थियों को मिलने वाले वजीफे को भी बन्द कर दिया गया।
मुख्य प्रवक्ता मथुरादत्त जोषी ने कहा कि हल्द्वानी में अपने भाशण में अमित षाह की राज्य निर्माण के बारे में अज्ञानता इसीसे झलकती है जब उन्होने कहा कि कांग्रेस केन्द्र षासित राज्य मांग रही थी। जबकि उत्तराखण्ड राज्य कांग्रेस की देन है। उन्होंने कहा कि परिवर्तन यात्राओं में आई कम भीड़ ने भाजपा को नकार दिया है तथा चेता दिया है कि आने वाले समय में उसकी विदाई तय है। जहां हरिद्वार रैली में भीड़ कम आने की भाजपा नेतृत्व द्वारा जांच कराई जा रही है वहीं देहरादून और अल्मोड़ा की रैलियों में भी जनता का भाजपा से मोह भंग होता दिखाई दिया। हल्द्वानी में 5 करोड़ रूपये की लागत से सम्पन्न हुई रैली में भीड के नाम पर उत्तर प्रदेष से लोगों को बुलाया गया। भाजपा के पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोष्यारी दो साल में राज्य में विकास की गंगा बहाने की बात करते हैं जबकि वे राज्य के मुख्यमंत्री रह चुके हैं तथा उपलब्धियों के नाम पर उनके नाम डबल जीरो रहा है।
प्रदेष कांग्रेस मुख्य प्रवक्ता ने कहा कि बिना कैबिनेट को विष्वास में लिये बिना प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने नोटबंदी का मूर्खतापूर्ण फैसला लेकर बैंक में जमा अपने ही पैसे निकालने के लिए देष की जनता को जहां एक ओर भिखारी की भांति लाईन में खड़ा कर दिया वहीं दूसरी ओर अपनी पार्टी के नेताओं का काला धन पीछे के रास्ते से सफेद किया जा रहा है जिसका ताजा उदाहरण पष्चिम बंगाल में भाजपा नेता से नये नोटों की खेप मिलने से हो गया है।
श्री जोषी ने कहा कि परिवर्तन के नाम पर भाजपा की 2012 के चुनाव में जीती हुई 26 विधानसभा सीटें भी परिवर्तित हो जायेंगी और उत्तराखण्ड की प्रबुद्ध जनता भाजपा को उसके जुमलों का जवाब विधानसभा चुनाव में उसका सूफड़ा साफ कर जरूर देगी।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments