उत्तराखंड में बन गया इतिहास, भराड़ीसैंण में सरकार ने किया ये काम

0
222

उत्तराखंड में बन गया इतिहास, भराड़ीसैंण में सरकार ने किया ये काम : Uttarakhand Cm made historical moment in Gairsen

भराड़ीसैंण। उत्तराखंड विधानसभा के सत्र की शुरुआत मंगलवार को हुई. सुबह 10:00 बजे राज्यपाल केके पॉल भराड़ीसैंण पहुंचें जहां स्थित विधानसभा भवन में अभिभाषण पढ़ने वाले वे पहले राज्यपाल बन गए. उनका अभिभाषण सुबह 11:00 बजे शुरू हुआ. इस मौके पर राज्यपाल केके पॉल को गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया.

आज विधानसभा सत्र के शुरू होते ही गैरसैण विधानसभा का नाम इतिहास में दर्ज हो गया. 18 साल के बालिग हो चुके उत्तराखंड राज्य में यह पहली बार है, जब विधानसभा सत्र की संपूर्ण कार्यवाही भराणीसैंण में होगी. इसे त्रिवेंद्र सरकार की बड़ी उपलब्धि के तौर पर माना जा रहा है यही नहीं उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत सहित राज्य सरकार की पूरी कैबिनेट और बीजेपी विधायक भी सड़क मार्ग से पहली बार गैरसैण पहुंचे. उत्तराखंड को बने 17 साल से अधिक का समय हो गया है लेकिन विधानसभा सत्र को लेकर गैरसैण में कोई भी सरकार अभी तक सड़क मार्ग से गैरसैण तक का सफर तय नहीं कर सकी थी लेकिन उत्तराखंड में बीजेपी सरकार के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने ना सिर्फ सड़क मार्ग से पहुंचकर गैरसैण तक का सफर तय किया बल्कि रास्ते भर में जनता से भी रूबरू होकर विकास कार्यों का खाका जाना. उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत पहले राज्य के ऐसे मुख्यमंत्री साबित हुए हैं जिन्होंने सड़क मार्ग से गैरसैण तक का सफर तय किया है. राज्य सरकार की इस पहल से जहां गैरसैंण की जनता के साथ साथ ग्राउंड जीरो पर भी सरकार के विकास कार्यों की समीक्षा राज्य के मुख्यमंत्री करते हुए नजर आए हैं वही जनता के बीच की सरकार के प्रति सकारात्मक संदेश देने की नई पहल उत्तराखंड में शुरू हुई है. गैरसैण में शुरू हुए विधानसभा सत्र में राज्यपाल केके पॉल ने राज्य सरकार की उपलब्धियों को लेकर बजट भाषण भी पड़ा जिसमें सरकार का विजन और जनता से किए जाने वाले वादों की तरफ साफतौर से देखने को मिली है. ऐसे में माना जा रहा है राज्य सरकार आगामी विजन को लेकर बहुत कुछ करने की तरफ आगे बढ़ती हुई नजर आ रही है. विधानसभा सत्र में आज राज्यपाल का अभिभाषण शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हुआ, वही गैरसैण में सत्र की फिजा बिल्कुल बदली हुई नजर आई हालांकि कुछ लोग गैरसैंण को स्थाई राजधानी बनाए जाने को लेकर सड़कों पर आंदोलन करते हुए लोग भी नजर आए लेकिन अभी राज्य सरकार की आगामी योजनाओं के साथ-साथ नई पहल के बाद गैरसैण का मुद्दा भी निश्चित रूप से निपट जाने की उम्मीद राज्य की जनता वर्तमान सरकार से लगाती हुई नजर आ रही है.

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments