उधम सिंह नगर में डैमेज कन्ट्रोल कांग्रेस की मज़बूरी

0
490
उधम सिंह नगर में डैमेज कन्ट्रोल कांग्रेस की मज़बूरी 
बाजपुर यशपाल आर्य के कांग्रेस को अलविदा कहने के बाद उधमसिंह नगर में अब कांग्रेस के बड़े नेता के रूप में तिलक राज बेहड़ एक बार फिर अपना राजनैतिक वजूद का हिस्सा बनाये जाने की तरफ आगे हो गए है वही यशपाल आर्य के लिए भी अपनी राजनैतिक जमीन को बचाये रख पाने की चूनोती सामने आ खड़ी हुई है यहाँ पर कांग्रेस यशपाल के जाने के बाद डैमेज कन्ट्रोल में जुट गयी है
यशपाल के भाजपा में जाने के बाद तिलक को कांग्रेसी बड़े नेता का सिहासन बचाने की चूनोती 
जनपद के अंदर यशपाल आर्य के जाने के बाद अब महज तिलक राज ही बचे है जिन के सहारे अब कांग्रेस को पुरे ज़िले अपना राजनैतिक वजूद कायम रख पाने की अग्नि परीक्षा से दो चार होना पड़ सकता है इस ज़िले में किच्छा सीट पर कांग्रेस को अब किसी दिग्गज को चुनावी समर में लाना होगा ताकि पुरे ज़िले में कांग्रेस के राजनैतिक समीकरण को चुनावो में अपने पक्ष में खड़ा किया जा सके वर्तमान समय में उधम सिंह नगर के अंदर कांग्रेस अपने राजनैतिक डैमेज कन्ट्रोल को लेकर मंथन कर रही है की आखिर किस तरह यशपाल आर्य की कमी को चुनाव में पूरा किया जा सके यही कारण है की अब कांग्रेस के अंदर भाजपा के नाराज़ लोगो का प्रवेश होना सुरु हो गया है
किच्छा सीट पर कांग्रेस की नज़र मे राकेश शर्मा 
बाजपुर से भाजपा के टिकट की दावेदारी कर रही सुनीता टम्टा कांग्रेस को ज्वाइन कर चुकी है यहाँ से कांग्रेस का टिकट दिया जाना फाइनल है यशपाल आर्य के सामने कांग्रेस बाजपुर सीट पर सुनीता टम्टा को चुनावी समर में उतार कर राजनैतिक समीकरण को बदल दिए जाने की तैयारी कर रही है लेकिन यशपाल की बाजपुर में राजनैतिक जमीन अभी तक किले के रूप में समझी जा रही है लेकिन बदले राजनैतिक समीकरण के बाद बाजपुर की जनता किस पर भरोसा करती है ये भी आने वाले समय में देखने को मिल सकता है यही नहीं कांग्रेस के लिए अब पुरे ज़िले में अपनी राजनैतिक जमीन को बचा पाने की भी चूनोती आ खड़ी हो गयी है राजनैतिक पंडितो का कहना है की यशपाल आर्य के जाने के बाद कही न कही कांग्रेस को डैमेज कन्ट्रोल किया जाना जरुरी होगी तभी ज़िले में कांग्रेस अपनी राजनैतिक जमीन को बचा पायेगी भाजपा को भी अब जनता के बीच जानकर क्या सन्देश देना होगा इस पर भी मंथन करना होगा क्यों की कल तक जो भाजपाई यशपाल आर्य के खिलाफ ज़िले बेच देने का आरोप लगा रहे थे आखिर अब वो भाजपा नेता किस तरह यशपाल आर्य अब अपनी ही राजनैतिक पार्टी में किस नज़र से देखेगे ये भी बड़ा सवाल भाजपा की लिए जनता की बीच तैयार करना होगा क्यों की कांग्रेस इस मुद्दे को जनता की बीच ले जाकर इस का राजनैतिक फायदा लेने की कोशिश जरूर करेगी कुल मिलाकर उधम सिंह नगर में कांग्रेस को इस विधानसभा चुनाव में अपनी राजनैतिक जमीन को बचा पाने की साथ साथ डैमेज कन्ट्रोल करना जरुरी होगा
Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments