उधम सिंह को राष्टीय शहीद दर्जे को लेकर कैंडिल मार्च

0
767

उधम सिंह को राष्टीय शहीद दर्जे को लेकर कैंडिल मार्च 

ऊधम सिंह काम्बोज के नाम को वैसे तो सभी जानते होंगे लेकिन आज तक इस भारत के लाल को किसी भी सरकार ने सहीद का दर्ज़ा नहीं दिया जरनल डायर को मौत की नींद सुला कर उस के जुल्मो को खत्म करने वाले सहीद ऊधम सिंह काम्बोज के परिवार वालो ने भारत सरकार को सहीद हुए ऊधम सिंह को सहीद का दर्ज़ा दिए जाने के साथ उस रिवाल्वर को भारत लाने की मुहीम सुरु कर दी है ! सोशल मीडिया से लेकर कई राज्यो में इस मुहीम को काफी जन समर्थन मिलता हुआ नज़र आ रहा है 31 जुलाई को दिल्ली के जंतर मंतर पर काम्बोज बिरादरी बड़ा विरोध करने जा रही है !  ये पहला अवसर होगा जब भारत के इस लाल को लेकर कोई सामने आया है !

शहीद सरदार उधम सिंह का जन्म 26 दिसंबर 1899

बता दे की ऊधम सिंह ने जरनल डायर को इंग्लैंड में जाकर उस समय मौत की नींद सुला दिया था जब डायर का जुल्म चरम पर था जिस के बाद ऊधम सिंह को फॉसी पर लटका दिया गया था अग्रेजो के इस काम को लेकर भारत में विरोध भी हुआ था !  लेकिन तब से लेकर आज तक कोई भी सरकार ऊधम सिंह की उस बंदूक को भारत नहीं ला सकी वर्तमान में ये बंदूक इग्लैंड के कब्जे में है भारत में उत्तराखण्ड,पंजाब,सहित कई राज्यो के काम्बोज बिरादरी के लोगो ने ऊधम सिंह को जहा सहीद का दर्ज़ा दिए जाने की मुहीम सुरु की है हलकी इस मुहीम को कुछ लोग राजनैतिक रंग भी देने की कोशिश में लगे हुए है सूत्रो से मिली जानकारी के अनुसार भारत के गृह मंत्री राजनाथ सिंह इस प्रोग्राम में शिरकत कर सकते है !

जलियांवाला बाग हत्याकांड

सरदार उधम सिंह ने जलियांवाला बाग नरसंहार के समय पंजाब के गवर्नर रहे माइकल ओ डायर को उसी की सरजमीं पर गोलियों से भून डाला। … अमर शहीद सरदार उधम सिंह का जन्म 26 दिसंबर 1899 को पंजाब के संगरूर जिले के सुनाम गांव में हुआ था। … यहीं पर उन्होंने उन्होंने जलियांवाला बाग की मिट्टी हाथ में लेकर जनरल डायर और पंजाब के गवर्नर माइकल ओ डायर को सबक … जलियांवाला बाग हत्याकांड के 21 साल बाद 13 मार्च 1940 को रॉयल सेंट्रल एशियन सोसायटी की लंदन के काक्सटन हॉल में बैठक थी

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments