वाहन दुर्घटनाओं की रोकथाम के संबंध में बैठक संपन्न हुई।

0
181

वाहन दुर्घटनाओं की रोकथाम के संबंध में बैठक संपन्न हुई।

पिथौरागढ़। जिला मुख्यालय समेत जनपद में यातायात व्यवस्था ठीक किये जाने एवं वाहन दुर्घटनाओं की रोकथाम के संबंध में एक बैठक जिला कार्यालय सभागार पिथौरागढ़ में जिलाधिकारी डा0 रंजीत सिन्हा की अध्यक्षता में संपन्न हुई। बैठक में जिलाधिकारी में जिलाधिकारी ने कहा कि पहाड़ी क्षेत्रों में अधिक दुर्घटनाऐं चालक द्वारा तेज गति से वाहन चलाना, अधिक थकान, नीद आना, नशे में वाहन चलाना, ओवरलोडिंग पहाड़ी क्षेत्रों में वाहन चलाने का अधिक ज्ञान न होना आदि प्रमुख कारण है जिन्हें रोके जाने की अत्यधिक आवश्यकता है, उक्त संबंध में जिलाधिकारी ने परिवहन, पुलिस तथा राजस्व विभाग को संपूर्ण जनपद में सचल अभियान चलाकर आवश्यक कार्यवाही के निर्देश दिये। उन्होंने एआरटीओ को निर्देश दिएा कि जिस भी महिला पुरूष को ड्राइविंग लाइसेन्स देना है पहले उसका ड्राइविंग परीक्षण अनिवार्य रूप से कराया जाय तथा एक परीक्षा यातायात नियमों के संबंध में भी अभ्यर्थी से ले ली जाय तभी लाइसेन्स जारी करें, परीक्षा में उत्तीर्ण अभ्यर्थी को ही लाइसेन्स जारी किया जाय। इसके अतिरिक्त जिलाधिकारी ने परिवहन विभाग को निर्देश दिये कि एक माह के भीतर जितने भी वाहनों में नम्बर प्लेट, लाईट इन्डिकेटर, हाॅर्न, गाड़ी के समस्त प्रपत्र आदि की कमी है तो वह वाहन स्वामियों को से पूरी करा ली जाय, एक माह के भीतर इनमें कमी पाये जाने वाले वाहनों को तुरन्त सीज किया जाय। जिलाधिकारी ने कहा कि अगर एक माह के बाद वाहनों में कमी आदि पकड़ी जाती है तो वाहन को तुरन्त सीज करने के साथ ही चालक का लाइसंेस निरस्त किया जाय। जिलाधिकारी ने कहा कि गाड़ी चालान पर्ची पर्याप्त रूप में समस्त उपजिलाधिकारियों तथा तहसीलदारों को भी उपलब्ध कराई जाय ताकि वह भी अपने स्तर पर वाहनों का चालान कर सकें। उन्होंने कहा कि एक अभियान के अंतर्गत सम्पूर्ण जनपद यातायात व्यवस्था को व्यवस्थित कर वाहन दुर्घटनाआंे में रोक लगाना सुनिश्चित करें। बैठक में जिलाधिकारी ने दोपहिया वाहन में हेलमेट को अनिवार्य किये जाने के निर्देश देते हुए पुलिस विभाग को कहा कि वह बिना हेलमेट वाले वाहनों का चालान करें इसके अतिरिक्त जिलाधिकारी ने परिवहन विभाग को कहा कि वह एक ऐसा साॅफटवेयर डेवलप करे जिसके माध्यम से पता चल जाय कि एक वाहन का कितनी बार चालान हो गया है ताकि उसी चालान के आधार पर लाइसेंस परमिट वाहन सीज की कार्यवाही की जा सकें। बैठक में जिला मुख्यालय में यातायात ब्यवस्था सुद्वढ़ किये जाने तथा जाम की स्थिति से निपटने हेतु जिलाधिकारी ने कहा कि सड़क किनारे जो भी भवन सामग्री 24 घन्टे से अधिक समय तक पायी जाती है तो उक्त भवन सामग्री को नगरपालिका जब्त कर सड़क से हटाऐं। इसके अतिरिक्त सड़क के एक तरफ वाहन खड़ी करने वाली प्रणाली को कड़ाई से लागू किया जाय। पार्किंग समस्यां के संबंध में जिलाधिकारी ने एसडीएम सदर तथा ईओ नगर पालिका को निर्देश दिये कि वह एक सप्ताह के भीतर रामलीला मैदान सदर में बनाई कार पार्किंग के अवैध कब्जे को हटाऐं तथा उक्त पार्किंग को आम नागरिकों हेतु खोला जाय। इसके अतिरिक्त जिलाधिकारी ने ईओ नगरपालिका तथा एसडीएम को निर्देश दिए कि नगर में जहाॅ जहाॅ पािर्कंग बनाई गयी है उन स्थानों में वाहनों को व्यवस्थित तरीेके से पािर्कंग हो ऐसी व्यवस्था सुनिश्चित की जाय। इसके अतिरिक्त नगर के बारातघरों के निकट वाहन कतई पार्क न किये जाय। बैठक में जिलाधिकारी ने एसडीएम सदर व पुलिस क्षेत्राधिकारीा तथा एआरटीओ को निर्देश दिये कि वह टैक्सी यूनियन के सदस्यों के साथ नगर का भ्रमण कर बेहतर पार्किंग व्यवस्था हेतु उनका भी सहयोग लें। जिलाधिकारी ने सड़क किनारें दुकान स्वामियों द्वारा रखे गये दुकान के सामान को भी सड़क से हटाये जाने के निर्देश दिए। बैठक में अपरजिलाधिकारी मुहम्मद नासिर, पुलिस क्षेत्राधिकारी हिमांशु शाह, एआरटीओ नवीन सिंह, टैक्सी यूनियन के अध्यक्ष टी0एस0मर्तोलियां, बार संघ के अध्यक्ष मोहन चन्द्र भट्ट समेत विभिन्न विभागीय अधिकारी आदि उपस्थित थे।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments