श्री रविदास कथा का देहरादून में हुआ आयोजन

0
159

श्री रविदास कथा का देहरादून में हुआ आयोजन :Shri Ravidas Katha Suresh Rathor
देहरादून श्री रविदास कथा का आयोजन देहरादून में कथावाचक रविदासाचार्य सुरेश राठौर द्वारा किया गया देहरादून में आयोजित हुए इस आयोजन में बड़ी संख्या में पहुंचे भक्तो ने कथा का आनंद लिया कथा का आयोजन गुरु रविदास विश्व महापीठ उत्तराखंड द्वारा देहरादून में किया गया था जहां बड़ी संख्या में पहुंचे भक्तों ने कथा का रसपान किया कथावाचक रविदासाचार्य सुरेश राठौर ने कथा में बोलते हुए कहा कि गुरु की भक्ति के बिना जीवन में कुछ भी संभव नहीं इसलिए आज के युग में बिना गुरु के कोई भी सन्मार्ग नहीं दिखा सकता उन्होंने काफी संख्या में पहुंचे भक्तों को कथा का रसपान भी करवाया

ज्ञात हो की बीजेपी से विधायक कथावाचक रविदासाचार्य सुरेश राठौर कथावाचक के रूप में भी धार्मिक मंच के माध्यम से श्री रविदास जी के चिंतन से देश दुनिया को अवगत करवाते आ रहे है उन्होंने बताया की राजनीती के साथ साथ कुछ समय निकाल कर वो जागरूकता को आगे बढ़ा कर लोगो को सामाजिक समरसता की डोर से बांधने का काम कर रहे है कथा में वाचन करते हुए कहा की श्री रविदास भगवान समाज में समानता के पैरोकार रहे है संत रविदास ने जीवन भर कर्म को ही प्रधानता दी और उनका सूत्रवाक्य की मन चंगा तो कठोती में गंगा आज भी प्रासंगिक है कथावाचक रविदासाचार्य सुरेश राठौर ने कथा में संगत को बताया की ‘तोहि मोहि मोहि तोहि अंतर कैसा’ अर्थात तुम में हूँ मुझ में तुम हो” तो हम सब में अंतर कैसा” हम सब एक सामान है
कथा शुरू होने से पहले दीप प्रज्वलन स्वामी कृष्णनन्द,प्रेम दास एवं मंच का संचालन संजय सैनी,अनिल सहगल द्वारा किया गया 15 August Speech and 15 August 2018 Speech

रविदास कथा में रविदास विश्व महापीठ के उत्तर प्रदेश अध्यक्ष ह्रदय राम,राष्टीय महामंत्री सूरज भान कटरिया,उत्तराखंड अध्यक्ष अमर सिंह स्वेडिया,अशोक एडवोकेट,महामंत्री अनिल कुमार,तारा देवी,सुषमा राणा,हिमांशु सतरिया,दया राम,किशोर पाल,संजय सैनी,केशव चोधरी सहित काफी संख्या में लोग मौजूद थे

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।