शौर्य डोभाल का बुलंद उत्तराखंड’ ‘बेमिसाल गढ़वाल’

0
550

शौर्य डोभाल का बुलंद उत्तराखंड’ ‘बेमिसाल गढ़वाल’ :Shaurya Doval Buland Uttarakhand Bemishal Garhwal


उत्तराखंड को बुलंद बनाए जाने के लिए एक ऐसे युवा ने कोशिश की है जिसका अपना जीवन अभी तक पढ़ाई के साथ साथ राजनीती की नयी पाठशाला में वयतीत हो रहा है पिता देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के राष्टीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल है लेकिन अपने पिता के बलबूते नहीं वो अपने सहारे उत्तराखंड को बुलंद किये जाने के सपनो को लेकर एक बार राज्य में काम करते हुए नज़र आ रहे है हलाकि उनके राजनैतिक विरोधी उनके काम किये जाने को आगामी 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव में उतरने के लिए बिछाया जाने वाला रेड कारपेट बता रहे है लेकिन इसके बाद भी डोभाल अपनी कोशिश में जुटे हुए है

देहरादून। राज्य में ‘बुलंद उत्तराखंड’ और ‘बेमिसाल गढ़वाल’ के तहत युवाओं को नई दिशा देने का प्रयास किया जा रहा है। बुलंद उत्तराखंड के तहत बेमिसाल गढ़वाल अभियान एक ऐसी शुरूआत है, जिससे न केवल युवाओं को स्वरोजगार से जोडऩे का प्रयास किया जा रहा है। वहीं, एक ऐसे सशक्त राज्य की परिकल्पना की नींव भी रखी जा रही है, जो देश के लिये बहुआयामी प्रतिभाओं का निर्माण करें। इंडिया फाउंडेशन के अध्यक्ष और बुलंद उत्तराखंड से जुड़े शौर्य डोभाल ने ये जानकारी पत्रकारों से मुखातिब होते हुये प्रेस वार्ता में दी।

उन्होंने बताया कि, बुलंद उत्तराखंड एक ऐसा अभियान है, जो राज्य के सम्मान, पर्यटन की संभावनायें और क्षेत्र के विकास के लिये प्रतिबद्ध है। उन्होंने बताया ये अभियान उत्तराखंड के लोगों के लिये काफी फायदेमंद होगा। इस अभियान का मुख्य उद्देश्य राज्य के लोगों को उज्जल भविष्य देना सुनिश्चित करना हैं। शोर्य ने बताया कि मिशन के तहत बेमिसाल गढ़वाल का अभियान बुलंद उत्तराखंड योजना के अंतर्गत चलेगा। बेमिसाल गढ़वाल अभियान का मुख्य उद्देश्य पूरे राज्य के व्यापक विकास, मसलन कृषि, स्वास्थ्य, पर्यटन, मशरूम फार्मिंग, सांस्कृतिक विरासत, संस्कृति, शिक्षा, रोजगार के अवसर, बाल सुधार आदि के क्षेत्र में विकास करना है। डोभाल ने बताया वो अपने राज्य के विकास के लिये प्रतिबद्ध है। वो इस पूरी योजना की शुरूआत गढ़वाल मंडल से कर रहे हैं। क्योंकि गढ़वाल ही उनकी माृतभूमि भी है। जहां उनका गांव पौड़ी जिले के घिरी गांव में हं। उसके बाद इस अभियान से कुमाऊं भी जोड़ा जायेगा।

शौर्य ने कहा, हम चाहते हैं कि इस अभियान के साथ आम लोग, समर्थक और शुभचिंतक भी जुड़ें। जिससे हम एक मजबूत राज्य के साथ सशक्त देश और समाज का निर्माण कर सके। इस अभियान के जरिये हम लोगों में आत्मविश्वास और साकारात्मकता भरना चाहते हैं। बेमिसाल गढ़वाल की अन्य कार्यों पर प्रकाश डालते हुये शौर्य ने बताया कि इस अभियान के तहत युवाओं की कैरियल काउंसिलिंग, गांव गंाव में मोबाइल क्लीनिक, महिलाओं को स्किल डवलपमेंट के प्रोग्राम से जोडऩा और उनके लिये स्वरोजगार के अवसर पैदा करना। उनके इस अभियान के साथ किसान और दुग्ध उत्पादन करने वाले भी जुड़े हैं। वहीं, युवाओं की कैरियर काउंसिलिंग के जरिये ये बताया जाता है कि उन्हें कौन सा कोर्स करना चाहिये और किस क्षेत्र में उसकी ज्यादा जरूरत है। इसी तरह मोबाइल क्लीनिक पोखरी, कल्जिखाल, जखोली, दसोली, पौड़ी, अगस्तमुनी ब्लॉक में मोबाइल क्लीनिक आम लोगों को काफी फायदा पहुंचा रहे हैं। ये मोबाइल क्लीनिक मेट्रो हॉस्पिटल के डा पुरुषोत्तम लाल के तकनीकी और मेडिकल सहयोग से संचालित हो रहा है।

पत्रकार वार्ता में भाजपा के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य शौर्य डोभाल ने बताया कि इसके अलावा भी कई अन्य गतिविधियां संचालित हो रही है। जैसे बुलंद उत्तराखंड के तहत विकास गोष्ठी, यूथ कॉन्क्लेव, महिला सशक्तीकरण, गांव रोजगार और किसानों की सृमद्धि के लिये भी कई आयोजन किये जा रहे हैं।

धर्मा लाइफ के सीईओ गौरव मेहता बताते हैं कि बुलंद उत्तराखंड के साथ धर्मा लाइफ कई तरह से सहयोग कर रहा है। जैसे गांव के समाजिक विकास को ग्रामीण उद्यमिता के जरिये सृदढ़ करने का प्रयास हो गांव की साफ सफाई, स्वास्थ्य, शिक्षा, स्किल डवलपमेंट आदि में सहयोग हो या पौष्टक आहार सुनिश्चित करना हो। गांव में शिक्षा, डिजिटल ज्ञानऔर स्वास्थ्य पर विशेष तौर पर काम किया जा रहा है। वहीं, महिलाओं को स्वरोजगार या उद्यमिता से जोडऩे के विशेष प्रयास किये जा रहे हैं। जिससे उत्तराखंड के गांव मजबूत हों। इस अभियान के साथ विभिन्न संस्थायें भी जुड़ी हैं। जैसे धर्मा लाइफ के सीईओ गौरव मेहता, डा लाल मेट्रो हॉस्पिटल, अमेठी यूनिवर्सिटी, टीडीआई इंटरनेशनल, टेस्ट फॉर जॉब (कोचिंग क्लासेस) और कोचिंग सॉफ्टवेयर स्पोर्ट। पत्रकार वार्ता में धर्मा लाइफ के सीईओ गौरव मेहता भी मौजूद रहे।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments