शंकराचार्य ने घोषित किया अपना उत्तराधिकारी नाम को लेकर विवाद

0
272

शंकराचार्य ने घोषित किया अपना उत्तराधिकारी नाम को लेकर विवाद Shankaracharya nominated successor of two peeth Shankaracharya nominated successor of two peeth
शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती ने कहा कि एक सुयोग्य पात्र शंकराचार्य के रूप में चारों पीठों को को एक साथ धारण कर सकता है, लेकिन एक पीठ पर दो शंकराचार्य कभी विराजमान नहीं हो सकते। ऐसे में किसी पीठ पर शंकराचार्य के विराजमान रहते कोई दूसरा शंकराचार्य कैसे हो सकता है। साफ है कि वह दूसरा फर्जी है।
उन्होंने कहा कि दोनों पीठों पर मेरे उत्तराधिकारी मेरी सेवा में हैं और उनसे शंकराचार्य के पद के अनुरूप आचरण की दीक्षा ले रहे हैं। कहा कि समय आने पर उनका प्रकटोत्सव हो जाएगा।

हरिद्वार ज्योतिष और द्वारका पीठ के शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती ने कहा कि उन्होंने दोनों पीठों के लिए उत्तराधिकारी नामित कर लिए हैं। दोनों दंडी स्वामी संन्यासियों को दंड भी प्रदान किया जा चुका है। हालांकि नाम का खुलासा करने से इन्कार करते हुए उन्होंने कहा कि शंकराचार्य के जीवित रहते ऐसा करना विधान के विरुद्ध है।
फरवरी में काशी विद्वत परिषद के विद्वानों की उपस्थिति में भूमा पीठाधीश्वर अच्युतानंद का ज्योतिष और द्वारका पीठ के शंकराचार्य घोषित किया गया था। अखाड़ा परिषद इसका विरोध कर रही है। तब से शंकराचार्य को लेकर विवाद चल रहा है

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments