सरकार का जीरो टोलरेंस परखेगा आरएसएस

0
87

देहरादून। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत उत्तराखंड में चार दिन तक रहेंगे उत्तराखंड सरकार का जीरो टोलरेंस परखेगा आरएसएस चार दिनों के प्रवास पर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत उत्तराखंड सरकार के काम काज और संघठन में आगामी लोकसभा चुनाव की तैयारी को लेकर भी फीडबैक लेंगे उत्तराखंड में पांच लोकसभा की सीट पर वर्तमान में बीजेपी के सांसद चुनाव जीते थे वर्तमान में लोकसभा चुनाव को लेकर किस तरह फीडबैक है इसको लेकर भी राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत राजनैतिक समीकरण पर जानकारी जुटाएंगे। Rss Chief Mohan Bhagwat Dehradun

ये खबर भी पढ़े:प्यार की रोमांटिक साइड

उत्तराखंड में लोकसभा चुनाव से पहले राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत का ये दौरा काफी अहम् माना जा रहा है उत्तराखंड में लोकसभा चुनाव 2019 को लेकर संघठन की राय क्या है इसका भी फीडबैक लिया जायेगा हलाकि ये राय सार्वजिनक नहीं होगी इसी राय के आधार पर लोकसभा में किस को टिकट दिया जाये इसको लेकर भी चर्चा की जा सकती है।

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत चार दिवसीय उत्तराखंड प्रवास के लिए देहरादून पहुंच गए हैं। वे हवाई मार्ग से देर शाम जौलीग्रांट हवाई अड्डे पर पहुंचे। वहां आरएसएस के क्षेत्र कार्यवाह शशिकांत दीक्षित और प्रांत प्रचारक युद्धवीर सिंह ने उनका स्वागत किया।
देर रात जेड प्लस सुरक्षा के बीच संघ प्रमुख सड़क मार्ग से सीधे तिलक रोड स्थित आरएसएस के प्रांतीय कार्यालय पहुंचे। वे चार दिनों तक इसी कार्यालय में रहेंगे। इस दौरान कार्यालय में केवल उन्हीं स्वयंसेवकों के प्रवेश की अनुमति होगी, जिनके नाम कार्यक्रम में शामिल होंगे।

भागवत का फिलहाल सरकार या संगठन के किसी भी मंत्री, विधायक या पदाधिकारी से मिलने का कार्यक्रम नहीं है। उनका यह दौरा विशुद्ध रूप से स्वयंसेवकों से मेल मिलाप का है।इस दौरान वे संघ के कामकाज और गतिविधियों की समीक्षा करेंगे और मार्गदर्शन देंगे। इसकी शुरुआत मंगलवार को महानगर शाखा मुख्य शिक्षक एवं शाखा कार्यवाह की बैठक से होगी।

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत का ये दौरा सरकार के मंत्रियो से दूरी वाला रहेगा जिसको लेकर प्रान्त कार्यालय में तैयारी करते हुए प्रवेश वाले लोगो को ही आने को कहा गया है राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत के दौरे को लेकर बीजेपी खास नज़र भी बना कर चल रही है बीजेपी के साथ साथ राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस)से मिलने वाले लोगो पर भी नज़र बनाई गयी है उत्तराखंड में लोकसभा चुनाव से पहले ये दौरा काफी अहम् माना जा रहा है राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) इस दौरे को लेकर काफी सावधानी भी रखे हुए है।

उत्तराखंड में बीजेपी के त्रिवेंद्र सिंह रावत की सरकार के दो साल पूरा होने के बाद ये राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस)का पहला लम्बा दौरा है जिसको लेकर कहा जा रहा है सरकार के काम काज को लेकर भी इस दौरे में चर्चा की जा सकती है बीते दिनों बीजेपी के राष्टीय अध्यक्ष अमित शाह उत्तराखंड में त्रिवेंद्र सिंह रावत सरकार के काम काज को लेकर उनकी तारीफ कर चुके है कार्यकर्ताओं के त्रिशक्ति सम्मेलन में सरकार को लेकर मुख्यमंत्री की पीठ अमित शाह थपथपा चुके है जिसके बाद मुख्यमंत्री का वजन राष्टीय नेताओं के सामने बड़ा है अब देखा जाना होगा राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) उत्तराखंड सरकार के काम काज को लेकर क्या फीड बैक पाता है जिसके बाद राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) अपनी प्रतिकिर्या देगा।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।