किन्नर रजनी रावत के खिलाफ इस किन्नर ने क्यों खोला मोर्चा

0
265

किन्नर रजनी रावत के खिलाफ इस किन्नर ने क्यों खोला मोर्चा

देहरादून : देहरादून में किन्नर रजनी रावत के बढ़ते आतंक के खिलाफ दूसरे किन्नर गुट ने मोर्चा खोल दिया है. राजधानी देहरादून के उत्तरांचल प्रेस क्लब में मीडिया से वार्ता करते हुए किन्नर ऋतु में आरोप लगाए कि किन्नर रजनी रावत देहरादून में अपना आतंक कायम किए हुए हैं. यही नहीं किन्नर रजनी रावत के लोगों द्वारा दूसरे किन्नरों को अपने-अपने क्षेत्रों में परेशान एवं मारपीट कर गंभीर अपराधों को अंजाम दिया जा रहा है लेकिन इतना सब कुछ हो जाने के बाद भी पुलिस उनके खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं कर रही. बता दें कि बीते 2 दिन पूर्व देहरादून के लक्ष्मण चौक चौकी क्षेत्र में रजनी रावत के किन्नर गुटों ने दूसरे किन्नर गुटों पर घर के अंदर घुसकर हमला बोल दिया था जिसके बाद पुलिस ने कार्यवाही करते हुए रजनी रावत के तीन लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था. देहरादून में कुछ समय पूर्व ट्रांसजेंडर अजय पाल की पिटाई का वीडियो भी वायरल हुआ था जिस पर भी पुलिस ने रजनी रावत के कई लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था. इस मामले में अभी तक कोई ठोस कार्यवाही ना किए जाने को लेकर ट्रांसजेंडर और किन्नर लोगों में रजनी रावत के खिलाफ खासा रोष पनप रहा है. उत्तरांचल प्रेस क्लब में वार्ता करते हुए ट्रांसजेंडर और किन्नर समुदाय के लोगों ने कहा कि देहरादून में रजनी रावत का आतंक इस कदर बढ़ गया है कि वह देहरादून में नेक मांगने के लिए लोगों से जबरदस्ती और कई तरह के हथकंडे अपना रहे हैं जो गलत है. उन्होंने कहा किन्नर रजनी रावत के मामलों को लेकर वह कई बार पुलिस से लेकर आला अधिकारियों को भी शिकायत दर्ज करवा चुके हैं लेकिन कोई कार्यवाही नहीं हो रही है. उन्होंने मांग की कि राज्य सरकार किन्नर रजनी रावत के लिंग की जांच करने के साथ-साथ उसकी अकूत संपत्ति और कई ऐसे हथियार जो उनके घरों में मौजूद हैं उनकी भी जांच करें ताकि लोगों में भय के वातावरण को खत्म किया जा सके. पत्रकार वार्ता के दौरान कई सामाजिक संगठनों से जुड़े लोग भी मौके पर मौजूद थे.

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments