पीएनबी मैनेजर रिश्वत लेते गिरफ्तार

0
82

देहरादून पीएनबी मैनेजर रिश्वत लेते सीबीआई ने पकड़ा बैंक के मैनेजर को सीबीआई के रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया है देहरादून में पकडे गए बैंक मैनेजर के पास इस गिरफ्तारी को लेकर बैंक कर्मियों में हड़कंप मचा रहा कई जगह पर पोस्टिंग के बाद बैंक मैनेजर की गिरफ़्तारी कई तरह की चर्चाओं को जन्म दे रहे है सीबीआई की टीम बैंक मैनेजर के आवास पर संपत्ति को लेकर भी कागज खंगाल रही है

सीबीआई ने मुद्रा ऋण स्वीकृत करने के नाम पर 40 हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए शनिवार को पंजाब नेशनल बैंक के सीनियर मैनेजर राजकुमार को गिरफ्तार कर लिया। आरोप है कि बैंक अधिकारी ने सीमेंट कारोबारी से पांच लाख रुपये का ऋण स्वीकृत करने के बदले यह रिश्वत मांगी थी। उधर सीनियर मैनेजर के आर्यनगर स्थित आवास पर भी देर रात तक सीबीआई की तलाशी कार्रवाई जारी थी। CBI आरोपित सीनियर बैंक मैनेजर के दून और अन्य जगहों पर प्रॉपर्टी, बैंक खातों और बैंक लॉकर आदि भी जानकारी जुटा रही है। आरोपित के तैनाती स्थलों और उनके द्वारा कितने लोन पास किए गए, इनको भी जांच के दायरे में लाने की तैयारी की जा रही है। सीबीआइ सूत्रों का कहना है कि आरोपित से जुड़ी कुछ और शिकायतें पहले भी मिली थीं, लेकिन प्रमाण न मिलने के कारण कार्रवाई नहीं हो सकी। सीबीआइ आरोपित की कॉल डिटेल भी जुटा रही है।

ये खबर भी पढ़े:अमित शाह ने जब अमर सिंह को बनाया हीरो

देहरादून शहर के बुड्ढी गांव निवासी सीमेंट कारोबारी कुणाल कुमार ने कई माह पहले मुद्रा ऋण योजना के तहत पांच लाख रुपये के ऋण के लिए चकराता रोड़ स्थित नारी शिल्प मंदिर की पंजाब नेशनल बैंक में आवेदन किया था। बैंक अधिकारी लगातार औपचारिकता पूरी न होने की बात कहकर उसे टरका रहे थे। आरोप है कि दिसंबर माह में राजकुमार मौका मुआयना करने के नाम पर व्यापारी के घर पहुंचे थे, जहां उन्होंने ऋण स्वीकृत करने के लिए कुणाल से 50 हजार रुपये की रिश्वत मांगी थी। कुणाल ने बातचीत कर 40 हजार रुपये देने के लिए हां कर दी। सीमेंट कारोबारी ने बैंक अधिकारी से रिश्वत की बातचीत रिकार्ड कर ली।

इसके बाद सीबीआई के एसपी अखिल कौशिक से इसकी शिकायत की। प्राथमिक तौर पर रिश्वत मांगने के आरोप सही पाए जाने के बाद सीबीआई एसपी ने इंस्पेक्टर मनिंदर सिंह, हरीश खर्कवाल, सुनील शर्मा, प्रशांत कांडपाल और उप निरीक्षक नवनीत मिश्रा और हिमांशु की संयुक्त टीम गठित कर दी। टीम ने सीनियर मैनेजर को रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ने की योजना बनाई। इधर सीनियर मैनेजर राजकुमार ने सीमेंट कारोबारी को 40 हजार रुपये लेकर शनिवार शाम पौने छह बजे बैंक में बुलाया। जहां सीबीआई टीम ने पहले ही घेराबंदी करके सीनियर मैनेजर राजकुमार को रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ लिया। इसके बाद सीबीआई की दूसरी टीम सीनियर मैनेजर के आर्यनगर स्थित आवास पर पहुंच गई, जहां देर रात तक सीबीआई की कार्रवाई जारी थी। आरोपी सीनियर मैनेजर को रविवार को न्यायालय में पेश किया जाएगा।

यदि आपसे कोई अधिकारी रिश्वत मांगता है तो यहां करे शिकायत-
सीबीआई पुलिस अधीक्षक-9411112667
सीबीआई आफिस-0135, 2761799
निदेशक विजिलेंस-0135,2520321
पुलिस अधीक्षक विजिलेंस-0135, 2725535, 9456591883
पुलिस अधीक्षक विजिलेंस हल्द्वानी सेक्टर-05946, 246372, 9411112761

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।