पंजाब में अमरिंदर , उनकी कैबिनेट ने ली शपथ

0
432

पंजाब में अमरिंदर , उनकी कैबिनेट ने ली शपथ
पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष कैप्टन अमरिंदर सिंह ने चंडीगढ़ के पंजाब राजभवन में मुख्यमंत्री पद की शपथ ली. कैप्‍टन के 9 और विधायकों ने भी मंत्री पद की शपथ ली. नंबर दो पर ब्रह्म मोहिंद्रा ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली. मोहिंद्रा बेअंत सिंह सरकार में भी उद्योग मंत्री थे. इसके बाद भाजपा से कांग्रेस में आए नवजोत सिंह सिद्धू ने भी कैबिनेट मंत्री पद के लिए शपथ ली.

इसके बाद मनप्रीत सिंह बादल ने भी मंत्री पद की शपथ ली. वह बठिंडा शहरी सीट से विधायक चुने गए हैं. ये बादल सरकार में वित्त मंत्री रह चुके हैं. नंबर 4 पर शपथ लेने पहुंचे साधू सिंह धर्मसोत. इन्हें कैप्टन साहब का बेहद करीबी माना जाता है. वह लगातार चार बार से विधायक चुने जा रहे हैं. इन्हें दलित समुदाय का बड़ा नेता माना जाता है.
नंबर पांच पर शपथ लेने पहुंचे तृप्त राजेंद्र बाजवा. फतेहगढ़ चूड़ियां से ये विधायक बनकर आए हैं. लगातार पांचवीं बार ये चुनाव जीते हैं. इन्हें पंजाब में जटसिख का चेहरा माना जाता है. बताया जा रहा है इन्हें लोकनिर्माण विभाग दिया जा सकता है.
कपूरथला से विधायक चुने गए राणा गुरजीत सिंह वो छठे विधायक हैं जिन्होंने मंत्री पद की शपथ ली. ये जालंधर से सांसद भी रह चुके हैं. इस बार इन्होंने कपूरथला से चुनाव लड़ा था.
इसके बाद नंबर सात पर शपथ लेने पहुंचे दलित समुदाय का चेहरा चरणजीत सिंह चन्नी. इन्हें भी मंत्री पद की शपथ दिलाई गई. ये लगातार तीसरी बार कांग्रेस के टिकट से चुनाव जीतकर पंजाब विधानसभा पहुंचे हैं. इससे पहले वह निर्दलीय भी चुनाव जीत चुके हैं.
अमरिंदर के कैबिनेट में अरुणा चौधरी को भी जगह मिली है. उन्होंने नंबर आठ पर शपथ ग्रहण किया. वह लगातार तीसरी बार विधायक चुनी गई हैं. ये दीनानगर से चुनाव जीती हैं. दलित समुदाय से किसी महिला चेहरे को कैप्टन साहब ने कैबिनेट में जगह दी है. वह राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार के तौर पर कैबिनेट में रहेंगी.
इसके बाद नंबर 9 पर रजिया सुल्ताना शपथ लेने पहुंचीं. ये भी राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार के तौर पर कैबिनेट में रहेंगी. ये पिछली कांग्रेस सरकार में मुख्य संसदीय सचिव रही हैं. इन्हें पंजाब में कांग्रेस का मुस्लिम चेहरा माना जाता है.
शपथ ग्रहण समारोह बहुत ही सादे तरीके से आयेाजित किया गया. पारिवारिक तौर पर भी कैप्टन अमरिंदर सिंह परेशान चल रहे हैं. उनकी माता महेंद्र कौर चंडीगढ़ के पीजीआई में दाखिल हैं. ऐसा माना जा रहा है कि शपथ ग्रहण समारोह को बिल्कुल साधारण रखने के पीछे ये भी एक वजह हो सकती है.

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।