राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी इंद्र देवता की इजाजत से करेगे बाबा केदारनाथ दर्शन

0
713

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी इंद्र देवता की इजाजत से करेगे बाबा केदारनाथ दर्शन

president pranab mukherjee visit kedarnath uttarakhand 

देहरादून बाबा केदारं के दर्शन को उत्तराखंड पहुच रहे राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को अगर इंद्र देवता का आशीर्वाद मिला तभी वो बाबा केदार के दर्शन कर पाएंगे उनकी बाबा केदार नाथ की ये तीसरी यात्रा है पूर्व में दोनों यात्रा पर इंद्र देवता उनका रास्ता रोक चुके है मोसम से साथ दिया तो इस बार राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी बाबा केदारनाथ के दर्शन परिवार सहित कर पाएंगे
राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी तीन दिवसीय उत्तराखंड प्रवास के लिए मंगलवार दोपहर को दून पहुंच जाएंगे। पहले दिन वह राजपुर रोड स्थित प्रेजीडेंट बॉडीगार्ड में ‘आशियाना’ भवन का जीर्णोद्धार करेंगे। उनके स्वागत के लिए प्रशासन ने सभी व्यवस्थाएं चाक चौबंद कर ली हैं और सोमवार को इसकी बाकायदा रिहर्सल भी की गई।

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी मंगलवार दोपहर 12.35 पर दिल्ली से दून के लिए प्रस्थान करेंगे और दोपहर 1.20 पर जौलीग्रांट एयरपोर्ट पर पहुंच जाएंगे। एयरपोर्ट से हेलीकॉप्टर से गढ़ी कैंट स्थित जीटीसी हेलीपैड पहुंचेंगे और फिर राजपुर रोड स्थित आशियाना भवन पहुंचेंगे। यहां पर दोपहर 2.15 पर वह भवन का जीर्णोद्धार करेंगे। साथ ही आशियाना में 12 नई यूनिट के निर्माण कार्य का शिलान्यास करेंगे। कुछ समय आशियाना में विश्राम करने बाद वह राजभवन के लिए प्रस्थान करेंगे।

यहां उनके स्वागत के लिए रात्रिभोज का आयोजन किया गया है। प्रवास के दूसरे दिन बुधवार सुबह वह आशियाना से हेलीकॉप्टर से केदारनाथ के लिए प्रस्थान करेंगे और पूजा-अर्चना के बाद दोपहर से पहले देहरादून लौट आएंगे। इस दिन शाम को आशियाना भवन में राष्ट्रपति की ओर से प्रदेश के करीब 120 गणमान्य व्यक्तियों के लिए हाई-टी का आयोजन किया गया है।
तीसरे दिन गुरुवार को दोपहर बाद राष्ट्रपति गंगा आरती के लिए हरिद्वार को रवाना होंगे। करीब दो घंटे के भीतर वह हरिद्वार से जौलीग्रांट एयरपोर्ट पहुंचेंगे और फिर वापस दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे।
8 सितंबर को केदारनाथ दर्शन के बाद वह तुलसी व नींबू की चाय और नाश्ते में पोहा ले सकते हैं। पिछली बार 22 जून को राष्ट्रपति के प्रस्तावित दौरे के दौरान भी केदारनाथ में उनका नाश्ते में पोहा और तुलसी-नींबू की चाय का ही मीनू तय था। ऑल टैरेन व्हीकल का कर सकते हैं प्रयोग केदारनाथ में हेलीपैड से लेकर मंदिर तक की दूरी करीब 335 मीटर है। यह रास्ता पैदल तय करने की बजाए राष्ट्रपति वहां नेहरू पर्वतारोहण संस्थान (निम) के पास उपलब्ध ऑल टैरेन व्हीकल का प्रयोग कर सकते हैं। बीती 22 जून को राष्ट्रपति के प्रस्तावित दौरे के मद्देनजर तब यह वाहन केदारनाथ लाया गया था।
राष्ट्रपति की उत्तराखंड यात्रा 27 सितंबर:
राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी दोपहर 1:30 बजे जौलीग्रांट एयरपोर्ट और 10 मिनट बाद देहरादून में जीटीसी हेलीपैड पहुंचेंगे। 2.10 बजे वह गेस्ट हाउस आशियाना का उद्घाटन करेंगे। रात पौने आठ बजे वह राजभवन रवाना होंगे और राज्यपाल की ओर से आयोजित रात्रि भोज में भाग लेंगे। रात्रि विश्राम वह आशियाना में करेंगे। 28 सितंबर: राष्ट्रपति सुबह 7.25 बजे जीटीसी हेलीपैड से केदारनाथ के लिए उड़ान भरेंगे। 8.25 पर वह केदारनाथ पहुंचेंगे और 8.40 बजे मंदिर में दर्शन करेंगे। वह करीब एक घंटा मंदिर में बिताएंगे। इसके बाद वह आशियाना लौट आएंगे और साढ़े पांच बजे भोज देंगे। 29 सितंबर: शाम पौने पांच बजे वह हरिद्वार के लिए रवाना होंगे और वहां छह बजे गंगा आरती में शामिल होंगे। कुछ देर हरकी पैड़ी में बिताने के बाद राष्ट्रपति वापस आशियाना लौट आएंगे। 30 सितंबर: राष्ट्रपति शाम पांच बजे जीटीसी से जौलीग्रांट एयरपोर्ट के लिए प्रस्थान करेंगे और 5.50 बजे दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments