Paytm का ATM

0
30

Paytm का ATM 

paytm 1

नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क). एक तरह से पेटीएम धारको के लिए यह खुशखबरी सामान है कि अब उन्हें पेटीएम से केवल पेमेंट मोड ही उपयोग में नहीं लाना है बल्कि जल्द ही वे पेटीएम के बैंक एटीएम का भी उपयोग कर सकेंगे, साथ ही इसमें ग्राहकों को कई तरह कि और भी सुविधाएँ दी जाएँगी जिसमे लेन देन की प्रक्रिया को आसान से और आसान किया जायेगा. जिससे ग्राहकों को अब अलग अलग पेमेंट मोड व् बैंक का इस्तेमाल करने की कम ही ज़रूरत होगी. यानी कि अब अधिकतर काम पेटीएम व् उसके एटीएम से हो जाएगा.

हाल ही में लॉन्च हुआ पेटीएम बैंक अब अपने विस्तार की योजना बना रहा है। इस योजना के तहत वह आने वाले तीन सालों में 3000 करोड़ रुपए का निवेश करेगा ताकि वो अपने ऑफलाइन-वितरण नेटवर्क का विस्तार कर पाए। इसके लिए भरोसेमंद स्थानीय साझेदारों की मदद से नगदी लेन-देन के केंद्र स्थापित किए जाएंगे।

पेटीएम देशभर में 1,00,000 “पेटीएम का एटीएम” जोड़ने की योजना बना रहा है और इसके पास मौजूदा समय में 3,000 स्वीकृत आउटलेट्स की ताकत है। आपको बता दें कि कंपनी ने बीते महीने ही अपने पेमेंट बैंक को लॉन्च किया है, जो कि सभी तरह के ऑनलाइन लेनदेन पर कोई भी शुल्क नहीं लेता है। साथ ही इसमें खाते में मिनिमम बैलेंस रखने को कोई अनिवार्यता भी नहीं रहती है।

पहले चरण में पेटीएम दिल्ली एनसीआर, लखनऊ, कानपुर, इलाहाबाद, वाराणसी और अलीगढ़ समेत चुनिंदा शहरों में 3,000 पेटीएम का एटीएम लगा रहा है। ये एटीएम पड़ोस की दुकानों जैसे होंगे जो पेटीएम के व्यावसायिक प्रतिनिधि के रूप में काम करेंगे और बचत खाता खोलने, पैसा जमा करने या निकालने जैसी सुविधाएं देगा।

पेटीएम पेमेंट्स बैंक की एमडी रेणू सत्ती ने कहा, “पेटीएम का एटीएम बैंकिंग आउटलेट हरेक भारतीय के लिए बैंकिंग सुविधाओं की सुलभता सुनिश्चित करने की दिशा में उठाया गया कदम है। यह हमारे ग्राहकों को सक्षम बनाएगा कि वो अपने निकटतम एवं भरोसेमंद आउटलेट्स पर जाकर अपना खाता खुलवा सकेंगे, पैसे जमा और निकाल सकेंगे। साथ ही वो यहां पर अपना आधार भी लिंक करा पाएंगे।”

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments