राजौरी सेक्टर में पाकिस्तान की ओर से की जा रही भारी फायरिंग

0
405

राजौरी सेक्टर में पाकिस्तान की ओर से की जा रही भारी फायरिंग

जम्मू राजौरी सेक्टर में पाकिस्तान की ओर से की जा रही भारी फायरिंग में एक जवान शहीद हो गया जबकि चार भारतीय जवान घायल हो गए हैं।
जम्मू-कश्मीर के राजौरी सेक्टर और पुंछ में पाकिस्तानी सेना ने युद्ध विराम का उल्लंघन जबरदस्त फायरिंग की। पाकिस्तान की ओर से की जा रही इस फायरिंग में बीएसएफ का एक हेड कांस्टेबल शहीद गया जबकि चार जवानों के घायल होने की खबर है। राजौरी के अलावा पाकिस्तान ने जम्मू-कश्मीर के नौशेरा में सीजफायर का उल्लंघन किया है। इस दौरान पाक लगातार मोर्टारों और गोलाबारूद का इस्तेमाल कर रहा है। पाकिस्तानी की ओर से हो रही लगातार फायरिंग का भारतीय सेना करार जवाब दे रही है। दोनों ही ओर से फायरिंग जारी है।
गौरतलब है कि शनिवार की सुबह भी राजौरी समेत तीन सेक्टरों की पोस्ट और रिहायशी इलाकों पर पाक रेंजरों ने भारी गोलाबारी की। इसमें बीएसएफ का जवान और एक महिला घायल हुए थे।
कश्मीर के पुलवामा जिले में आतंकी रियाय डार को भारतीय सेना के जवानों ने मार गिराया था। उसके दो साथी भागने में कामयाब रहे थे। शनिवार शाम सूचना मिली थी कि ककपोरा के बेगमबाग क्षेत्र में आतंकी छिपे हुए हैं। इस पर सेना और पुलिस की टीम ने संयुक्त ऑपरेशन शुरू किया। इलाके में सर्चिंग के दौरान आतंकियों ने टीम पर फायरिंग की थी।
शनिवार को पाकिस्तान की तरफ से नौशेरा सेक्टर में सीजफायर का उल्लंघन किया गया था। इसके अलावा सुंदरबनी सेक्टर में पाकिस्तान ने मोर्टार दागे थे। इससे पहले गुरुवार को जम्मू जिले के पल्लनवाला सेक्टर में भी पाकिस्तान ने सीजफायर का उल्लंघन किया था। मंगलवार को भी राजौरी सेक्टर में सीजफायर उल्लंघन का भारतीय सेना ने मुंहतोड़ जवाब दिया था।
29 सितंबर को एलओसी पार सर्जिकल स्ट्राइक के बाद अबतक पाकिस्तान की तरफ से 200 से ज्यादा सीजफायर का उल्लंघन हो चुका है। पाक की तरफ से गोलाबारी में अबतक 26 लोगों को जान जा चुकी है, जिसमें 14 जवान शहीद हो चुके हैं।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।