निकाय चुनाव में राजनैतिक किले ध्वस्त

0
221

देहरादून। उत्तराखंड नगर निकाय चुनाव में मेयर और अध्यक्ष पद की 84 सीटों पर देर रात तक जारी मतगणना के बाद बुधवार की सुबह 84 सीटों के परिणाम जारी कर दिए गए हैं। इसमें 34 सीटों पर भाजपा ने जीत हासिल की है। जबकि कांग्रेस के खाते में 25 सीटें आई हैं। वहीं 23 सीटों पर जीत हासिल कर निर्दलीय प्रत्याशियों ने दमदार उपस्थिति दर्ज कराई है। जबकि बसपा ने एक सीट पर कब्जा किया। लेकिन आप , सपा और क्षेत्रीय पार्टी उक्रांद का सूपड़ा साफ हो गया।

 

ये खबर भी पढ़े : उत्तरखंड निकाय चुनाव रिजल्ट 2018

बीजेपी सरकार के कई मंत्री अपनी अपनी विधानसभा में अपना राजनैतिक किला नहीं बचा पाए है राज्य के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की विधानसभा डोईवाला में भी बीजेपी जीत दर्ज़ नहीं कर पाई है यहाँ पर कांग्रेस ने जीत दर्ज़ कर बड़ा फैसला दिया है हरिद्वार में कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक और सांसद रमेश पोखरियाल निशक भी अपनी राजनैतिक जमीं की पकड़ को बचा कर नहीं रख सके है हरिद्वार मेयर सीट पर कांग्रेस ने अपनी जीत दर्ज़ करते हुए नए समीकरण का संकेत दिया है।

हरिद्वार में मिली हार से दोनों बीजेपी नेताओं की राजनैतिक पकड़ कमजोर होती नज़र आयी है जबकि हरिद्वार की बीजेपी राजनीती में गुटबाज़ी का दंगल भी साफ साफ नज़र आया है बीजेपी के कई विधायक मंत्री मदन कौशिक से नाराज़ बताये जाते है यही वजह है यहाँ पर बीजेपी अपना मेयर प्रत्याशी हार चुकी है जिसका फायदा कांग्रेस को हरिद्वार मेयर सीट पर मिला है।

उधमसिंहनगर की दो मेयर सीट काशीपुर और रुद्रपुर दोनों जगह पर बीजेपी मेयर ने जीत दर्ज़ करते हुए यहाँ पर अपना कब्ज़ा बरक़रार रखा है दोनों जगह पर बीजेपी पहले से ही मेयर सीट पर थी काशीपुर मेयर सीट को लेकर बीजेपी ने यहाँ से एक बार फिर उषा चोधरी को टिकट दिया था जिसके बाद काशीपुर की जनता के उषा पर अपना भरोसा कायम करते हुए एक बार फिर से मेयर चुना है यहाँ पर बीजेपी की गुटबाज़ी का असर नज़र नहीं आया है जिसके कारण बीजेपी काशीपुर में चुनाव जीत गयी है

इसके आलावा रुद्रपुर मेयर सीट को लेकर बीजेपी यहाँ पर भी अपना परचम कायम करते हुए फिर से मेयर सीट जीती है बीजेपी ने यहाँ पर रामपाल को अपना मेयर प्रत्याशी बनाया था कांग्रेस के साथ साथ तिलक राज बेहड़ को रुद्रपुर मेयर सीट की हार का सामना एक बार फिर बीजेपी विधायक राजकुमार ठुकराल से करना पड़ा है यहाँ पर बीजेपी ने पाना किला मजबूत रखा है बीजेपी जीत जाने के बाद यहाँ पर कांग्रेस को काफी नुकसान मेयर सीट नहीं जीत पाने के कारण हुआ है।

हल्द्वानी की मेयर सीट पर भी बीजेपी ने अपना परचम बरक़रार रखा है बीजेपी ने यहाँ से जोगेंद्र रावत को अपना प्रत्याशी बनाया था जिस पर हल्द्वानी की जनता ने एक बार फिर मेयर बना कर अपना मतदान किया है यहाँ से कांग्रेस की नेता प्रतिपक्ष इंद्रा ह्रदेश ने अपने बेटे सुमित ह्रदेश को कांग्रेस का मेयर प्रत्याशी बनाया था लेकिन कांग्रेस हल्द्वानी में बुरी तरह से हार गयी है इस हार को कांग्रेस की गुटबाज़ी के रूप में भी देखा जा रहा है यहाँ पर हरीश रावत कैंप के काफी असर दिखाया है जबकि इंद्रा के राजनैतिक विरोधी कांग्रेसी लोगो ने भी यहाँ पर चुनाव हराये जाने के लिए काफी अच्छा समीकरण बनाया है हल्द्वानी मेयर सीट पर बीजेपी की जीत कई तरह से आने वाले समय में कांग्रेस के लिए अच्छा सकेत नहीं है।

देहरादून मेयर सीट पर भी कांग्रेस की हार ने यहाँ पर बीजेपी का तीसरी बार जीत का परचम कायम किया है बीजेपी को देहरादून मेयर सुनील उनियाल गामा के रूप मिला है सुनील गामा को राज्य के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत का करीबी माना जाता है देहरादून मेयर सीट पर सभी राजनैतिक दलों की नज़र भी बनी हुई थी यहाँ की राजनैतिक कांग्रेसी आपसी लड़ाई का समीकरण रहा की कांग्रेस दिनेश अग्रवाल अपना मेयर का चुनाव हार गए है जबकि यहाँ पर कांग्रेस अपनी गुटबाज़ी के कारण चुनाव नहीं जीत पाई है यही वजह रही देहरादून मेयर सीट पर बीजेपी आसानी से चुनाव विपरीत समीकरण के बाद जीत गयी है देहरादून मेयर सीट के लिए आप पार्टी की रजनी रावत भी इस बार कोई खास करिश्मा दिखाती हुई नज़र नहीं आई इस बार आप की झाड़ू देहरादून में चलती हुई नज़र नहीं आई जबकि रजनी रावत का कुछ समय पहला अच्छा मतदाता जुड़ा हुआ था लेकि इस बार के मेयर चुनाव में रजनी रावत का ग्राफ काफी गिरा है।

कोटद्वार नगर निगम चुनाव में बीजेपी ने यहाँ अपना किला कांग्रेस से नहीं बचा पाई है बीजेपी को यहाँ पर कांग्रेस से हार का समाना करना पड़ा है कांग्रेस छोड़ कर बीजेपी में गए हरक सिंह रावत के लिए भी ये हार किसी सदमे से कम नहीं बताई जा रही है यहाँ पर कांग्रेस मेयर प्रत्याशी हेमलता नेगी ने बीजेपी को अच्छे अंतर से हराया है जिसको लेकर कहा जा रहा है यहाँ पर आने वाले समय में बीजेपी को काफी अच्छा काम किया जाना होगा ताकि जनता के भरोसे पर कायम रहा जा सके यहाँ पर जिस तरह से कांग्रेस को जीत मिली है वो कही न कही बीजेपी नेताओं की आपसी गुटबाज़ी का भी असर रहा है जसिके कारण कांग्रेस कोटद्वार नगर निगम अच्छे अंतर से जीत पाई है।

ऋषिकेश नगर निगम चुनाव में बीजेपी को बड़ी सफलता मिली है यहाँ से कई बार चुनाव में जीत दर्ज़ किये जाने वाले दीप शर्मा को इस बार निकाय चुनाव में बड़ी हार का समाना करना पड़ा है वार्ड चुनाव में भी दीप शर्मा अपना राजनैतिक किला नहीं बचा पाए है जबकि उनकी पत्नी मेयर सीट पर भी चुनाव हार गई है यहाँ पर बीजेपी विधायक प्रेम चंद अग्रवाल अपना राजनैतिक वजूद बचाये रक् पाने में कामयाब हुए है जिसके कारण यहाँ पर मेयर सीट पर बीजेपी अपनी जीत दर्ज़ कर सकी है बीजेपी ने यहाँ पर अनीता ममगाई को पाना मेयर प्रत्याशी बनाया था यहाँ पर बीजेपी को अपना किला बचा पाने में अधिक प्रयाश नहीं करना पड़ा कांग्रेस गुटबाज़ी के कारण यहाँ पर आसानी से बीजेपी ने जीत दर्ज़ की है।

बता दें कि मेयर की 7 सीटों में से देहरादून, हरिद्वार, काशीपुर, ऋषिकेश, रुद्रपुर, कोटद्वार और हल्द्वानी सीटों के परिणाम घोषित कर दिए गए हैं। इसमें पांच सीटों देहरादून, ऋषिकेश, काशीपुर, रुद्रपुर और हल्द्वानी में भाजपा का परचम लहराया। जबकि पहली बार अस्तित्व में आए कोटद्वार नगर निगम में कांग्रेस की हेमलता नेगी पहली मेयर चुनी गई हैं। वहीं हरिद्वार में भी कांग्रेस ने जीत हासिल की है।

चमोली जिले की पोखरी नगर पंचायत के अध्यक्ष के साथ ही एक वार्ड का परिणाम रोका गया है। वहां वार्ड सात के देवर बूथ के मतपत्रों पर पीठासीन अधिकारी के दस्तखत नहीं थे। मतगणना के दौरान जब इस बूथ की मतपेटी खुली तो ये बात सामने आई। इस मामले में चमोली की डीएम एवं जिला निर्वाचन अधिकारी ने संबंधित पीठासीन अधिकारी के निलंबन की संस्तुति करने के साथ ही बूथ में तैनात चार मतदानकर्मियों से स्पष्टीकरण मांगा है।

वहीं जिला निर्वाचन अधिकारी की रिपोर्ट के बाद राज्य निर्वाचन आयोग ने पोखरी नगर पंचायत के इस वार्ड में 22 नवंबर को पुनर्मतदान के आदेश दिए हैं। राज्य निर्वाचन आयुक्त चंद्रशेखर भट्ट के अनुसार इस बूथ में 22 नवंबर को सुबह आठ से शाम पांच बजे तक मतदान होगा। मतदान के बाद मतगणना होगी और फिर देर शाम तक परिणाम घोषित कर दिए जाएंगे। इसके साथ ही प्रदेश में वार्ड मेंबर की 1064 सीटों में से 1018 के परिणाम आ चुके हैं। बाकी की गणना जारी है।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।