NH 74 घोटाला दो आईएएस सस्पेंड

0
341

देहरादून। उत्तराखंड में दो आईएएस अफसरों को राज्य सरकार ने सस्पेंड कर दिया है उत्तराखंड में जमीन आवंटन को लेकर अभी तक कई लोग जेल में जा चुके है इस मामले पर उत्तराखंड सरकार ने दो आईएएस चंद्रेश यादव और पंकज पांडेय को सस्पेंड कर दिया गया है राज्य के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने दोनों अफसरों को सस्पेंड किये जाने की पुष्टि की है।

 

उत्तराखंड में नेशनल जमीन का अब तक का सबसे बड़ा घोटाला सामने आया था इस मामले की जांच एस आई टी कर रही है लेकिन उत्तराखंड में बीजेपी सरकार द्वारा इस मामले पर की गयी कारवाही से अफसरों में हड़कंप मचा हुआ है उत्तराखंड में अभी तक इस तरह की बड़ी कारवाही को दूसरी बार अंजाम दिया गया है इससे पहले पटवारी प्रकरण पर आईएएस अफसर को सस्पेंड किया गया था।
उत्तराखंड में अब तक हुई इस कारवाही के बाद जल्द अब पुलिस इस मामले पर दोनों अफसरों पर अपना शिकंजा कसती हुई नज़र आएगी।

सआईटी की रिपोर्ट शासन को मिलने के बाद से एक के बाद एक नई जानकारियां सामने आयी थी । डॉ. पंकज पांडेय और चंद्रेश यादव के बाद तीन और आईएएस अधिकारियों के नाम घपले से जुड़े होने की बात कही जा रही है। बताया जा रहा है कि ये तीनों ही आईएएस अफसर जून-2013 से मई-2016 की अवधि में ऊधमसिंह नगर जिले में बतौर एसडीएम तैनात रहे हैं। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बैक डेट यानी धारा तीन के प्रकाशन के बाद 143 की जितनी भी कार्रवाई की गई, उनके परवाने 2013 से 2016 के बीच जारी किए गए। जबकि नियमानुसार परवाना 143 (भूमि की प्रस्थिति में परिवर्तन) की कार्रवाई पूरी होने के 90 दिनों के भीतर किया जाना होता है। मगर यहां परवाना बाद में जारी किए गए।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।