NH74 घोटाला आईएएस अफसर निशाने पर

0
155

NH74 घोटाला आईएएस अफसर निशाने पर: Nh74 Land Scam Uttarakhand, Two IAS Officers Targeted

देहरादून। उत्तराखंड में नेशनल हाईवे जमीन घोटाले को लेकर एसआईटी की जांच के बाद अब दो बड़े अफसर लंबी छुट्टी पर चले गए हैं हालांकि उनके छुट्टी पर जाने की पुष्टि सरकार के किसी भी अफसर ने नहीं की है प्रकाश पंत ने सचिवालय कैबिनेट की ब्रीफिंग के दौरान आए एक सवाल के जवाब में कहा कि किसी भी अफसर को छुट्टी पर जाने का अधिकार मौलिक है लेकिन वह जांच को प्रभावित ना कर सके इसके लिए भी राज्य सरकार कोशिश कर रही है।

आपको बता दें कि उत्तराखंड के उधमसिंह नगर में नेशनल 74 जमीन आवंटन के घोटाले को लेकर आईपीएस अफसर डॉ सदानंद दाते ने एसआईटी के माध्यम से कड़ी कार्रवाई करते हुए कई अफसरों से लेकर अधिकारियों को जेल की सलाखों के पीछे भेज दिया था। और जांच पूरी होने के बाद अब इस मामले पर कोर्ट में चार्जशीट फाइल की जानी शेष है, वही उत्तराखंड में IPS सदानंद दाते के केंद्र सरकार में जाने को लेकर भी राजनीति के गलियारों में चर्चा तेजी से तैर रही है कि क्या नेशनल हाईवे जमीन घोटाले मामले को लेकर तो बड़े अफसरों पर कार्रवाई से पहले उनके तबादले को अंजाम दिया गया है।

हालांकि सदानंद दाते ने केंद्र सरकार को पहले ही उत्तराखंड से भेजे जाने के लिए अपना आवेदन भेजा था, लेकिन उत्तराखंड की राज्य सरकार नेशनल जमीन घोटाले की जांच कर रहे सदानंद दाते को पूरी कार्रवाई अंजाम देने के बाद ही रिलीव करने की बात कह रही थी। उत्तराखंड में सदानंद दाते एक ऐसे पुलिस अफसर के रूप में सामने आए हैं जिनकी कार्रवाई के बाद शासन के 2 बड़े अफसरों पर भी शिकंजा कसना तय माना जा रहा है, अब देखना होगा उत्तराखंड में नेशनल हाईवे 74जमीन का घोटाला क्या राजनीतिक पहुंच वाले लोगों तक भी पहुंचेगा जिन के कहने पर जिलों में तैनात दोनों अफसरों ने दबाव में आकर नेशनल जमीन घोटाले में आवंटन के खेल को अंजाम दिया होगा।

राजनीतिक सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इस जमीन घोटाले के तार कई राजनेताओं से भी जुड़े हुए बताए जा रहे हैं हालांकि अभी तक ऐसा कोई भी नाम आधिकारिक तौर पर सामने नहीं हो सका है जिसमें राजनीतिक संरक्षण को लेकर कोई नाम सामने आया हो लेकिन राजनीतिक सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इस मामले के तार कहीं ना कहीं कुछ राजनेताओं पर भी नजर आते दिख रहे हैं अब आने वाले दिनों में जब एसआईटी इस मामले में चार्जशीट फाइल करेगी तो देखना जरूरी होगा कि क्या एसआईटी ने अपनी चार्जशीट में कुछ राजनेताओं के नामों का उल्लेख किया है या नहीं अगर एसआईटी की जांच रिपोर्ट में नामों का उल्लेख नहीं होगा तो यह भी माना जाना तय है कि नेशनल74 जमीन घोटाले में राजनेताओं को बचाने के लिए जरूर कुछ खेल खेला गया है।

उत्तराखंड में नेशनल 74 जमीन आवंटन का मामला काफी समय से चल रहा है इस मामले को लेकर सरकार की तरफ से ज़िलों में तैनात रहे आईएएस अधिकारी पंकज पांडेय,चंद्रेश यादव को सरकार की तरफ से नोटिश जारी किया गया है। जिसमे उनके द्वारा आगामी 18 अगस्त तक का समय माँगा गया है सचिवालय में दोनों अफसरों के छुट्टी पर जाने की बात कही जा रही है अब इस मामले को लेकर जांच कर रही टीम के सामने अभी कई तरह की नयी चुनोतियो के रूप में किसानो से लेकर कई ऐसे लोगो के नाम भी सामने आ रहे है, जो सरकार से मुआवजा लेकर बहार जा चुके है उधम सिंह नगर के कई किसानो के विदेश भागे जाने की जानकारी भी सामने आयी है कुल मिलकर आने वाले दिनों में ये मामला एक नया राजनैतिक रूप लेता हुआ भी नज़र आएगा।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।