समाचार न्यूज़ एजेंसी पी टी आई की खबर बेतुका व निराधार मुख्यमंत्री

0
557

देहरादून गो हत्या को लेकर समाचार एजेंसी पी टी आई हरिद्वार द्वारा लिखी गयी खबर को प्रदेश के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने सिरे से खारिज किया है हरीश रावत ने खबर को पूरी तरह गलत करार दिया है और कहा है की उन के द्वारा इस तरह की कोई बात हरिद्वार में नहीं की गयी इस समाचार एजेंसी की खबर के बाद देश के कई न्यूज़ चैनेल ने खबर को ब्रेक किया था जिस में दिखाया गया था की उत्तराखंड के सीएम हरीश रावत ने गोहत्या विवाद पर ताज़ा बयान देकर नया बवाल खड़ा कर दिया..समाचार एजेंसी पी टी आई रिपोटर सशि शर्मा ने भड़ास फॉर इंडिया को बताया की उन के द्वारा हरीश रावत के बयान को लिखा तो गया है लेकिन इस बयान का कोई वीडियो उन के पास नहीं है जो साबित कर रहा है की ये खबर कही न कही हरीश रावत के खिलाफ एक प्लान के तहत तो नहीं की गयी है प्रदेश के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा की इस तरह की खबरे इतनी बड़ी न्यूज़ एजेंसी ने क्यों बनायीं इस बात का पता तो वही बता सकते है
इस खबर को लेकर कांग्रेस में भी हलचल मच गयी है लेकिन ये बयान जिस तरह से तोड़ मरोड़ का पेश किया गया है उस ने समाचार न्यूज़ एजेंसी की विस्वसनीयता पर भी सवाल खड़े कर दिए है बताया जा रहा है की इस तरह की गलती समाचार एजेंसी ने तीसरी बार की है खबर है इस विवादित खबर के बाद हरिद्वार के पत्रकार पर गाज गिर सकती है इस विवाद के बाद राज्य के सरकारी सूचना विभाग ने समाचार जारी किया है
एक समाचार एजेंसी द्वारा गौहत्या पर प्रकाशित व प्रसारित समाचार को झूठा व बेतुका बताते हुए मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा है कि गुरूवार को हरिद्वार में गोपाष्टमी के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में उनके द्वारा ऐसी कोई बात नहीं कही गई थी। शुक्रवार को बीजापुर हाउस में मीडिया से अनौपचारिक बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री श्री रावत ने कहा कि उनका सारा जीवन प्रगतिशील विचारों पर आधारित रहा है। ‘‘ऐसे समाचार से मुझे गहरा दुख हुआ है। कार्यक्रम में न तो मैंने और मेरी उपस्थिति के दौरान न ही किसी और व्यक्ति ने ऐसी बात कही। कार्यक्रम में पक्ष विपक्ष के अनेक राजनेताओं सहित अन्य लोग उपस्थित थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता रामानंदाचार्य स्वामी श्री हंसदेवाचार्य जी कर रहे थे। किसी भी व्यक्ति से इस बात को वेरीफाई किया जा सकता है।’’
मुख्यमंत्री श्री रावत ने कहा कि हम गाय का सम्मान करते हैं। हमने गंगा गाय योजना प्रारम्भ की है। हम दूध उत्पादन पर बोनस देने के साथ ही चारा प्रजाति के वृक्षारोपण, जल संरक्षण पर भी बोनस दे रहे हैं। यदि कोई व्यक्ति या संस्था बूढ़ी व लावारिस गायों के संरक्षण के लिए आगे आते हैं तो हम इसके लिए योजना पर विचार कर सकते हैं। मुख्यमंत्री श्री रावत ने कहा कि हमने गौ संवर्धन को आर्थिकी व आजीविका से जोड़ा है परंतु जिस तरह के बयान की बात समाचार एजेंसी द्वारा कही गई है, वह बेतुका व निराधार है।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments