उत्तराखंड विधानसभा में तिवारी निधन पर शोक प्रस्ताव

0
54

देहरादून उत्तराखंड विधानसभा सत्र के पहले दिन मंगलवार को चलाये जाने वाले प्रश्नकाल नहीं चला पूर्व मुख्यमंत्री नारायण दत्त तिवारी के निधन के बाद उत्तराखंड विधानसभा में उनको शोक सवेदना वयक्त की गयी मंगलवार प्रातः 11 बजे सदन की कारवाही जैसे ही शुरू हुई तो शोक प्रस्ताव लाते हुए नारायण दत्त तिवारी के निधन पर शोक वयक्त किया गया जहा बोलते हुए नेता सदन ने कहा की तिवारी जी के निधन से पुरे देश को नुकसान हुआ है उनका पूरा जीवन उत्तराखंड के विकास लिए चिंता करता रहता था।

संसदीय मंत्री प्रकाश पंत ने शोक प्रस्ताव पर बोलते हुए कहा की नारायण दत्त तिवारी के निधन से उत्तराखंड को नुकसान हुआ है उनके राजनैतिक सफरनामे की कई बातो का जिक्र भी किया गया प्रकाश पंत ने कहा की तिवारी जी अपने यहाँ आने वाले किसी भी वयक्ति को काम के लिए माना नहीं करते थें यही उनके जीवन का सबसे अधिक अपनी तरफ आकर्षित किये जाने वाला काम था।

नेता प्रतिपक्ष इंद्रा ह्रदेश ने नारायण दत्त तिवारी ने निधन पर लाये गए शोक प्रस्ताव पर बोलते हुए कहा की तिवारी जी संसदीय परम्परा को आगे ले जाने वाले ऐसी विकास पुरुष थे जिनके राजनैतिक कार्यकाल में विकास को आगे ले जाने का काम किया गया यही वजह रही उत्तर प्रदेश से लेकर उत्तराखंड में उनका सरकार के रूप में काम किया जाना विकास का विकसित रास्ता था उनके काम किया जाने का अलग अंदाज हर किसी को उनकी तरफ लेकर जाने वाला रहा उत्तराखंड विधानसभा में प्रश्नकाल का समय आज तिवारी जी के निधन पर लाये गए शोक प्रस्ताव पर बीता।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।