नारायण दत्त तिवारी के निधन की गलत खबर पोस्ट करना इनको पड़ेगा भारी

0
214

नारायण दत्त तिवारी के निधन की गलत खबर पोस्ट करना इनको पड़ेगा भारी:NARAYAN DATT TIWARI NIDHAN FAKE NEWS नारायण दत्त तिवारी के निधन की गलत खबर पोस्ट करना इनको पड़ेगा भारीनारायण दत्त तिवारी के निधन की गलत खबर पोस्ट करना इनको पड़ेगा भारीनारायण दत्त तिवारी के निधन की गलत खबर पोस्ट करना इनको पड़ेगा भारी
देहरादून उत्तराखंड के सोशल मीडिया का गलत उपयोग इस राज्य के यूथ कर रहे है उनका ध्यान कभी भी इस तरफ नहीं जाता की उनकी उस पोस्ट का कितना प्रभाव उस परिवार पर पड़ता है जिसके बारे में पोस्ट की जाती है यही नहीं मीडिया के कुछ लोग भी सोशल मीडिया का गलत उपयोग कर अपवाह फैला रहे है पड़े लिखे होने के बाद भी उनका ये कदम उनकी सोच का पैमाना नाप कर बता रहा है कभी भी उनके खिलाफ क़ानूनी कारवाही का अंजाम सामने नहीं आया है समय रहते सोशल मीडिया पर पोस्ट होने वाली अपवाह जैसे जानकारी को रोकने के लिए क़ानूनी नज़र बढ़ाये जाने की जरुरत है ताकि अपवाह जैसी जानकारी सोशल मीडिया पर पोस्ट किये जाने वाले के खिलाफ क़ानूनी कारवाही को अंजाम देकर बढ़ाये जाने से रोका जाये

देहरादून में उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रहे नारायण दत्त तिवारी के निधन की खबर सोशल मीडिया पर कुछ लोगो द्वारा पोस्ट कर फैला दी गयी थी पोस्ट के बाद जब जानकारी लेने के लिए नारायण दत्त तिवारी के बेटे रोहित शेखर से पता किया गया तो खबर पूरी तरह अपवाह साबित हुई जिसके बाद रोहित ने कहा की जिसके द्वारा भी इस तरह का समाचार पोस्ट किये गए है उनके खिलाफ वो क़ानूनी कारवाही को अंजाम देंगे भड़ास फॉर इंडिया को जब तिवारी के निधन की अपवाह जैसा पोस्ट पड़ने को मिला तभी तिवारी के निधन को अपवाह खबर के रूप में लिखा गया था खबर को पोस्ट किये जाने वाले कई पत्रकार भी थे जिसकी जानकारी किसी वयकति द्वारा भड़ास फॉर इंडिया को कुछ सोशल मीडिया पर पोस्ट की गयी खबर के स्क्रीन शॉट के साथ मेल की गयी है
तेजी के साथ दौड़ रही मीडिया की लाइन में खड़े पत्रकारों को खबर चलाये जाने से पहले पुष्टि किया जाना जरुरी होता है लेकिन अब तेजी की इस लाइन में हर कोई एक दूसरे से पहले खबर ब्रेक किये जाने के लिए गलत खबर को पाठको को परोस देता है जिसका नतीजा पूरी मीडिया को उठाना पड़ रहा है उत्तराखंड में तेजी से अपवाह जैसी खबरों को परोसा जाना पत्रकारिता के पेशे में जागरूक की बजाये सिर्फ अपवाह जैसे मीडिया वालो की लिस्ट लगातार बढ़ती जा रही है

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments