मीटू प्रकरण: बीजेपी के संजय बने अभिमन्यू

1
217

देहरादून मीटू प्रकरण: बीजेपी के संजय बने अभिमन्यू मीटू प्रकरण में बीजेपी पूर्व संगठन मंत्री संजय कुमार के खिलाफ देहरादून पुलिस ने मुकदमा दर्ज़ कर लिया है काफी समय से ये विवाद बीजेपी के लिए सिरदर्द बना हुआ था सोशल मीडिया से लेकर दिल्ली तक इस मामले की गूंज के बाद बीजेपी ने संघठन महामंत्री को पद से हटा दिया था लेकिन मामला महिला कर्मी से जुड़ा होने के कारण इसको राजनैतिक रूप दिया जाना भी तेज हो गया था

उत्तराखंड बीजेपी में पूर्व संगठन मंत्री संजय कुमार के मामले को लेकर बात इतनी ही नहीं रुकी बीजेपी के महानगर अध्यक्ष विनय गोयल का भी एक वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है जिसके बाद ये मामला अभी कुछ दिनों तक तूल पकड़ सकता है लेकिन अब पुलिस में मुकदमा दर्ज़ होने के बाद पूर्व संगठन मंत्री संजय कुमार की मुश्किलें भी बढ़ना तय है।

उत्तराखंड में कांग्रेस अभी तक इस मुद्दे को लेकर कोई बड़ा विरोध नहीं कर पाई है जिसको लेकर भी सवाल खड़े हो रहे है इस मामले को लेकर कांग्रेस ने एक प्रेस नोट जारी कर अब मामले को हवा देने का काम तेज किया है सोशल मीडिया में वायरल हो रहे भाजपा के महानगर अध्यक्ष विनय गोयल के वीडियो जो उन्हीं की कार्यकर्ता द्वारा लिए गए हैं उनपर उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी की प्रवक्ता गरिमा मेहरा दसौनी ने कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है ।दसौनी ने कहा कि इन दोनों ही वीडियो से भाजपा का असली चाल चरित्र और चेहरा उजागर हो गया है एक वीडियो में जहां विनय गोयल खुद भी मी- टू में संलिप्त होने की बात कहते हैं और प्रचारकों की शारीरिक जरूरतों का हवाला दे रहे हैं जिससे भाजपा के नेताओं की महिलाओं के प्रति मानसिकता उजागर होती है वहीं दूसरी वीडियो से यह साफ जाहिर होता है कि भाजपा का दलित प्रेम केवल सियासी ड्रामा भर है- दिखावा है और कुछ नहीं।

सुचिता का दम भरने वाली भाजपा को दागी अपराधी प्रवृत्ति के लोगों को टिकट देने से कोई गुरेज नहीं है वह तो सिर्फ सत्ता की भूखी है यह वीडियो इस बात का सबूत है ।इस वीडियो में एक समुदाय या जाति विशेष के लोगों पर एक बहुत बड़ा लांछन “की अनुसूचित जाति के लोग गलत धंधे में संलिप्त रहते हैं,वे शराब और सट्टे का धंधा करते हैं”ऐसा आरोप महानगर अध्यक्ष द्वारा लगाया गया है जो कि ना काबिले बर्दाश्त है।

वीडियो में वह इस बात की जानकारी भी दे रहे हैं कि भाजपा ने किस तरह के दागदार लोगों को हाल ही में हुए नगर निकाय के चुनाव में टिकट देने का काम किया इससे एक बात तो साफ हो गई है कि पिछले साल भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का देहरादून में स्थित वाल्मीकि बस्ती में दलित परिवार के आवास पर भोजन ग्रहण करना ढकोसला मात्र था। महिलाओं का भाजपा में कितना सम्मान है इसकी पोल तो महामंत्री संगठन संजय कुमार पर लगे यौन उत्पीड़न के आरोपों और वायरल हो रहे ऑडियो वीडियो से हो ही चुका है।अब दलित वर्ग के प्रति भी उनकी छोटी सोच से पर्दाफाश हो गया है।

मीटू प्रकरण में मुकदमा होने के बाद पुलिस सोमवार को पीड़िता के बयान दर्ज करेगी। इसके बाद उसके मजिस्ट्रेटी बयान कराए जाएंगे। बयानों की प्रक्रिया पूरी होने के बाद आरोपी संजय कुमार को नोटिस जारी किया जाएगा। फिलहाल पुलिस ने आरोपी से कोई संपर्क नहीं किया है।

करीब ढाई माह की उठापटक के बाद शनिवार को पीड़िता की शिकायत पर शहर कोतवाली में भाजपा के पूर्व संगठन मंत्री संजय कुमार के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया। इससे पहले मामले में पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) सरिता डोभाल ने पीड़िता के बयान दर्ज किए थे और जांच रिपोर्ट एसएसपी को सौंपी थी। एसएसपी निवेदिता कुकरेती के आदेश पर संजय कुमार के खिलाफ अश्लील हरकत करने, लज्जा भंग करने और जान से मारने की धमकी देने के आरोप में एफआईआर दर्ज हुई। पीड़ित महिला ने इस संबंध में पुलिस को कुछ ऑडियो क्लिप देने को भी कहा था। आने वाले दिनों में ये मामला बीजेपी के लिए कांग्रेस मुद्दा बनाये जाने की तैयारी कर रही है

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।