केदारनाथ का स्वरुप बदल जायेगा तीर्थपुरोहितों का विरोध में धरना

0
129

केदारनाथ का स्वरुप बदल जायेगा तीर्थपुरोहितों का विरोध में धरना : Kedarnath Protested Against Government


केदारनाथ केदारनाथ के पौराणिक स्वरूप से छेड़छाड़ का आरोप लगाते हुए तीर्थपुरोहितों ने सरकार के खिलाफ धरना प्रदर्शन कर छह घंटे उपवास रखा। हर सोमवार को तीर्थपुरोहित धरना देकर सरकार की नीतियों का विरोध करेंगे। केदारनाथ की यात्रा से वापिस गए पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत सरकार से यात्रियो को किसी तरह की परेशानी नहीं हो इसको लेकर अपनी आवाज़ बुलंद कर चुके है यही नहीं हरीश रावत ने सरकार के मुख्यमंत्री की तारीफ तक की है लेकिन सरकार में शामिल मंत्रियो के काम काज को लेकर सवाल भी खड़े किये है

दरअसल, पिछले दिनों देहरादून में पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत की मौजूदगी में तीर्थपुरोहितों के संगठन केदारसभा ने हर सोमवार को केदारनाथ में धरने का एलान किया था। इसी के तहत सोमवार को तीर्थपुरोहित मंदिर प्रांगण में एकत्रित हुए और धरने पर बैठ गए। करीब छह घंटे तक चले धरने के दौरान उन्होने सरकार पर आरोप लगाया गया कि पुनर्निर्माण कार्यों के लिए पुरोहितों को भरोसे में नहीं लिया गया।

केदार सभा के अध्यक्ष विनोद शुक्ला ने कहा कि मंदिर के सम्मुख रास्ते को 70 फीट चौड़ा किया जा रहा है। मंदिर परिसर का भी विस्तार किया जा रहा है। इससे केदारनाथ का पौराणिक स्वरूप ही बदल जाएगा। उन्होंने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत, विधायक मनोज रावत व सांसद प्रदीप टम्टा के साथ ही चारधाम हकहकूक धारी महापंचायत के अध्यक्ष कृष्णकांत कोटियाल भी इस पर एतराज जता चुके हैं। बावजूद इसके उनकी मांगों पर ध्यान नहीं दिया जा रहा।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments