केदारनाथ फिल्म रिलीज़ से पहले ये देखेंगे

0
123

देहरादून। केदारनाथ फिल्म को लेकर उत्तराखंड में राज्य सरकार इसकी अनुमति देगी या नहीं इसको लेकर एक समिति का गठन किया गया है बाबा केदारनाथ धाम पर बनी इस फिल्म में कई ऐसे सीन मौजूद है जिसको लेकर फिल्म विवाद का कारण बन चुकी है केदारनाथ फिल्म को लेकर मामला कोर्ट में भी चल रहा है लव जिहाद जैसे विषय को लेकर केदारनाथ फिल्म कल यानि सात दिसंबर को रिलीज़ होनी है ऐसे में इस फिल्म को लेकर राज्य सरकार की तरफ से एक समिति का गठन किया जा चूका है जो अपना फैसला लेते हुए उत्तराखंड में केदारनाथ फिल्म रिलीज़ किये जाने पर अपनी रिपोर्ट देगी।

 

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार केदारनाथ फिल्म में कई ऐसे सीन जिनको लेकर विवाद का विषय बना हुआ है उसको फिल्म से हटा दिया गया है अब सिरद उत्तराखंड में बनाई गयी समिति इस फिल्म को देखे जाने के बाद इस पर अपना फैसला देगी केदारनाथ फिल्म देखे जाने के लिए सतपाल महाराज वाली समिति केदारनाथ फिल्म को देख कर फैसला लेगी लेकिन इतना तय है केदारनाथ फिल्म को लेकर उत्तराखंड में विवाद बढ़ता जा रहा है हिन्दू वादी कई जगह पर केदारनाथ फिल्म को लेकर विरोध कर रहे है।

केदारनाथ आपदा पर बनाई गई फिल्म के विरोध होने का सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा। तीर्थनगरी हरिद्वार में संतों से लेकर हिंदू संगठनों में इस फिल्म को लेकर उबाल है। हरिद्वार में हिंदू जागरण मंच ने ‘केदारनाथ’ फिल्म का विरोध बुधवार को कार्यकर्ताओं ने फिल्म के विरोध में नारेबाजी की और पुतला दहन किया। जिला अध्य्क्ष भूपेन्द्र सैनी के नेतृत्व में हिन्दू जागरण मंच द्वारा प्रदर्शन किया गया और केदारनाथ आपदा पर बनी फिल्म में अश्लीलता व लव जेहाद को बढ़ावा देने का आरोप लगाया गया।

संघटन मंत्री भगवन कार्की ने कहा की जहां एक ओर केदारनाथ में आई आपदा ने उत्तराखंड को ही नहीं संपूर्ण देश को संकट में डाल दिया। वहीं ‘केदारनाथ’ फिल्म में अश्लीलता की सारी हद पार करते हुए केदारनाथ में साल 2000 से मुसलमानों का होना, उसके साथ वहां की छात्रा के साथ लव जेहाद के रूप में प्रेम प्रसंग, केदारनाथ में नमाज पढ़ना आदि विषयों से आहत हिंदू जागरण मंच ने हाईकोर्ट की ओर रुख किया है।

सतपाल महाराज समिति करेगी फैसला

केदारनाथ फिल्म पर की जा रही आपत्तियों की समीक्षा करने के लिए पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज की अध्यक्षता में समिति गठित की गई है। सचिव गृह नितेश झा, सचिव सूचना दिलीप जावलकर व डीजीपी अनिल रतूङी समिति के सदस्य हैं। समिति केदारनाथ फिल्म को लेकर की जा रही आपत्तियों के संदर्भ में फिल्म का परीक्षण करेगी और अपनी रिपोर्ट देगी। इस रिपोर्ट के आधार पर राज्य सरकार द्वारा उत्तराखंड में फिल्म के प्रदर्शन के संबंध में समुचित निर्णय लिया जाएगा।

केदारनाथ फिल्म को रिलीज़ नहीं किया जाने वाली गुजरात कोर्ट याचिका को कोर्ट पहले ही खारिज कर चूका है अब उत्तराखंड सरकार ने केदारनाथ फिल्म को लेकर अपना फैसला लिया जाना है माना जा रहा है देहरादून में आज केदारनाथ फिल्म को देखे जाने के लिए समिति इसके फिल्म में उन विवादित सीन देखे जाने के बाद अपना फैसला लेगी समिति आज केदारनाथ फिल्म देख कर अपना फैसला करेगी केदारनाथ फिल्म कल यानि सात दिसम्बर को रिलीज़ हो रही है

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।