पत्रकारों की सम्पत्ति जाँच की आवाज़ पत्रकारों की बोलती बंद

0
630

देहरादून उत्तराखंड राज्य गठन से लेकर अब तक अधिकारी,राजनेता पत्रकार सभी की सम्पप्ति जाँच की आवाज़ से राज्य में हलचल तेज़ हो गयी है उत्तराखंड में जहां अधिकारी राजनेता और यहाँ तक की कुछ मीडिया के लोगो ने भी राज्य का खून चूस लिए है यही कारन है की आज उत्तराखंड में सभी लोगो की संपत्ति जाँच की आवाज़ बुलंद होती नज़र आ रही है देहरादून नगर निगम में जर्नलिस्ट यूनियन आॅफ उत्तराखंड के द्विवार्षिक सम्मेलन में संघटन महामंत्री गिरीश पंत ने अपनी मागो को लेकर राज्य सरकार को दिए गए एक पत्र में उत्तराखंड में पत्रकारों की संपत्ति जाँच की मांग उठाई है इस मांग के उठ जाने के बाद कई पत्रकारों को जैसे सांप सूंघ गया है क्यों की राज्य गठन के बाद से कई पत्रकारों ने अपनी अकूत सम्पत्ति अर्जित कर ली है राज्य में जब ऐसे पत्रकारों का हुजूम बढ़ने लगेगा जो दलाली से लेकर कई तरह के गोरख धन्दों में अपनी पत्रकारिता को नीलाम कर नोटों की चमक के आगे अपना जमीर बेच चुके है तो उन से राज्य में किस तरह की ईमानदारी का भरोसा किया जा सकता है उत्तराखंड के देहरादून में कई ऐसे पत्रकारों ने अपनी बेनामी सम्पत्ति से लेकर नामी संपत्ति अर्जित कर ली है जिन के महीने का वेतन इतना नहीं होता जितनी संपत्ति अर्जित की गयी है जो सवाल उठा रही है की आखिर ये दौलत कहा से आ गयी कही न कही पत्रकारों की संपत्ति जाँच की आवाज़ ने अकूत संपत्ति अर्जित करने वाले पत्रकारों की आवाज़ को बंद कर दिया है यही नहीं सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार कई पत्रकारों ने देहरादून में काफी कम समय में अपने आलीशान लाखो की कोठियों को बना लिया है राज्य सरकार अगर पत्रकारों की सम्पत्ति जाँच की आवाज़ को सुनती है तो कई ऐसे पत्रकारों की अकूत संपत्ति सामने आ सकती है जो थोड़े से कम समय में करोड़ो के मालिक बन गए है
स्टिंगर कैसे बन गया करोड़ो का मालिक
एक निजी टीवी न्यूज़ चैनल का स्टिंगर भी देहरादून में करोड़ो का मालिक बन गया है जिस का महीने का वेतन सिर्फ पांच से दस हज़ार होता था वो भी आखिर कैसे करोड़ो की धन सम्पदा का मालिक बन गया इस को कुछ समय पहले एक शिकायत पर न्यूज़ चैनल से हटाया गया था और न्यूज़ चैनल की जाँच में लगाए गए आरोप सही साबित हुए थे ये भी जाँच का विषय राज्य सरकार के लिए हो सकता है
महिला प्रेम में पागल पत्रकार का बन गया भवन
यही नहीं कई ऐसे देहरादून में मीडिया के चोले में पत्रकारों के बड़े मगरमछ मौजूद है जो करोड़ो के मालिक बन गए है और कम समय में ही देहरादून में अपने आलीशान भवनों को बना चुके है यही नहीं एक पत्रकार तो एक सरकारी विभाग में काम करने वाली महिला से हर महा मोटी रकम लेकर अपना देहरादून में आलीशान भवन बना चूका है सूत्र बताते है की इस पत्रकार का अपने घर से जयदा भरोसा उस महिला से है जो सरकारी नौकरी में इस पत्रकार का घर भर रही है यही नहीं महिला और पत्रकार के बीच प्रेम कहानी की भी चर्चा जोरो पर है

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments