पीत पत्रकारिता से दूरी बनेगी जनता की आवाज़

0
404

पीत पत्रकारिता से दूरी  बनेगी जनता की आवाज़

हरिद्वार मुख्यमंत्री हरीश रावत ने होटल गंगा रिवेरा में पे्रस क्लब हरिद्वार द्वारा आयोजित वर्तमान पत्रकारिता के समक्ष चुनौतिया विषय पर संगोष्ठी में प्रतिभाग करते हुए कहा कि पत्रकारिता हमारे समाज का दर्पण है। संसदीय लोकतंत्र में समालोचना का बहुत बड़ा महत्व है। उन्होंने कहा कि हरिद्वार प्रेस क्लब हमेशा गतिशील रहा है एंव समसामायिक चीजों के लिए शक्रिय रहता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि पत्रकारिता हमेशा से ही एक चुनौती रही है। समाचार का पढ़ने वालों पर कितना सकारात्मक प्रभाव पड़ता है यह भी पत्रकारिता का एक प्रमुख लक्षण है। उन्होंने कहा कि समाचार एवं समालोचना की बुनियाद यथावत बना रहना आवश्यक है। शासन व्यवस्था में कभी जिन कमियों पर ध्यान नहीं जाता, समाचार पत्रों के माध्यम से कमियां उजागर होने से उनमें सुधार किया जाता है।
वरिष्ठ पत्रकार आलोक मेहता ने कहा कि पत्रकारिता में चुनौतियां स्वतंत्रा से पूर्व भी थी और आज भी हैं। उन्होंने कहा कि पुराने सम्पादकों को भी अनेक प्रकार की चुनौतियों का सामना करना पड़ा। उन्होंने कहा कि पत्रकारिता में व्यक्तिगत विद्वेष नहीं होना चाहिए। तथ्यात्मक रूप में लिखना सकारात्मक पत्रिकारिता है। उन्होंने कहा कि एक अच्छा समाचार पत्र की गुणवत्ता कन्टेट बेस पर होती है न कि संख्या बल पर। डाॅ. प्रणव पाण्या ने कहा कि चुनौतियों का सामना सभी को करना पड़ता है। उन्होंने कहा कि शोसियल, इलेक्ट्रानिक एवं प्रन्टि मीडिया को मिलाकर मीडिया एक बड़ा प्लेटफार्म बन गया है। उन्होंने कहा कि पत्रकारिता में आगे भी चुनौतियां बढ़ेगी।
इस अवसर पर प्रेस क्लब के अध्यक्ष पी.एस. चैहान, श्रवण झाॅ,डाॅं सुशाील उपाध्याय, सुनील पाण्डे, रजनीकान्त शुक्ला सहित हरिद्वार के वरिष्ठ पत्रकार उपस्थित थे।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments