जिला सेवायोजन कार्यालय के शिक्षण एवं मार्गदर्शन केन्द्र में निःशुल्क प्रशिक्षण ।

0
259

जिला सेवायोजन कार्यालय के शिक्षण एवं मार्गदर्शन केन्द्र में निःशुल्क प्रशिक्षण ।

रूद्रप्रयाग जिला सेवायोजन कार्यालय के नियंत्रणाधीन शिक्षण एवं मार्गदर्शन केन्द्र में निःशुल्क प्रशिक्षण हेतु अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं पिछड़े वर्ग के छात्र/छात्राओं के लिये निःशुल्क टंकण व्यवसाय के लिये आवेदन आमंत्रित किये गये हैं। सेवायोजन विभाग के शिक्षण एवं मार्गदर्शन केन्द्र में निःशुल्क 6 माह का टंकण प्रशिक्षण, सत्र जनवरी 2016 से जून 16 तक एवं एक वर्षीय अशुलिपि (हिन्दी) प्रशिक्षण सत्र जनवरी 2016 से दिसम्बर 2016 तक अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं पिछड़े वर्ग के अभ्यर्थियों को दिया जायेगा। इसके अतिरिक्त इस वर्ग के छात्रों को हिन्दी आशुलिपि, सामान्य ज्ञान, कंम्प्यूटर टंकण, लेखा, सचिवीय पद्धति, सामान्य गणित, सामान्य हिन्दी एवं विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी हेतु मार्गदर्शन व कोचिंग प्रदान की जाती है। प्रशिक्षण हेतु आवेदक की शैक्षिक योग्यता इण्टर एवं आयु 18 से 35 वर्ष होनी चाहिये। आवेदन पत्र किसी भी कार्य दिवस में सेवायोजन कार्यालय तथा शिक्षण एवं मार्गदर्शन केन्द्र, बेलणी (रूद्रप्रयाग) से निःशुल्क प्राप्त कर दिनांक 30.12.2016 तक कार्यालय में जमा किये जायेंगे। दिनांक 31.12.2016 को काउन्सिलिंग के द्वारा मेरिट के आधार पर शिक्षण एवं मार्गदर्शन केन्द्र में उपलब्ध सीटों के अनुसार प्रवेश दिया जायेगा। इच्छुक अभ्यर्थी नियत समय के अनुसार उक्त तिथि तक आवेदन पत्र कार्यालय से सामान्य कार्य दिवस में निःशुल्क प्राप्त कर अपने समस्त शैक्षिक प्रमाण पत्रों को प्राप्त आवेदन पत्र के साथ संलग्न कर काउन्सिलिंग में सम्मिलित होकर प्रवेश ले सकते हैं।इस संदर्भ में अधिक जानकारी के लिये कार्यालय के दूरभाष संख्या 01364233741, एवं 09557511448 पर सम्पर्क किया जा सकता है। प्रशिक्षण केन्द्र से सफलता पूर्वक प्रशिक्षण प्राप्त अभ्यर्थी अच्छी संख्या में सेवायोजित होते हैं।

Bhadas 4 India देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल की हिंदी वेबसाइट है। भड़ास फॉर इंडिया.कॉम में हमें आपकी राय और सुझावों की जरुरत हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें bhadas4india@gmail.com पर भेज सकते हैं या हमारे व्हाटसप नंबर 9837261570 पर भी संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज Bhadas4india भी फॉलो कर सकते हैं।

Comments

comments